नॉटिघम : वेस्टइंडीज आईसीसी विश्व कप-2019 में आज मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया के खिलाफ ट्रेंट ब्रिज मैदान पर उतरेगी। दोनों टीमों ने अपने पहले मैचों में एकतरफा जीत हासिल की थी।

वेस्टइंडीज इस टूर्नामेंट में ऐसी टीम की पहचान लेकर उतरी है जिसके पास वो खिलाड़ी हैं जिनके लिए हर मैदान छोटा है। क्रिस गेल, आंद्रे रसेल, कार्लोस ब्रैथवेट ऐसे खिलाड़ी हैं जो बड़े-बड़े शॉट खेलने में माहिर हैं, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ टीम ने जिस तरह की गेंदबाजी की उससे पता चला है कि इस टीम के पास गेंदबाजी में भी गहराई है।

युवा ओशाने थॉमस ने दमदार गेंदबाजी की थी। शेल्डन कॉटरेल, कप्तान जेसन होल्डर और रसेल ने भी अपना योगदान दिया था। विंडीज ने गेंदबाजी में बेहतरीन प्रदर्शन तब किया था जब उसके दो मुख्य तेज गेंदबाज केमर रोच और शेनन गैब्रिएल बाहर थे।

ये भी पढ़ें: भारत की गेंदबाजी के कायल हुए डु प्लेसिस, ऐसे की तारीफ

आस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी पाकिस्तान के मुकाबले मजबूत है। एरॉन फिंच और डेविड वार्नर की सलामी जोड़ी शानदार फॉर्म में हैं। इन दोनों के अलावा उस्मान ख्वाजा और स्टीवन स्मिथ का बल्ला भी जमकर बोल रहा है। अंत में ग्लैन मैक्सवेल, एलेक्स कैरी और मार्कस स्टोइनिस भी तेजी से रन बनाने में सक्षम हैं।

ऐसे में विंडीज को थोड़ा सतर्क रहने की जरूरत होगी क्योंकि आस्ट्रेलिया की तरफ से वार्नर, फिंच या स्मिथ में से कोई एक भी चल गया थो बड़ा स्कोर लगभग तय है।

सभी जानते हैं कि विंडीज के लिए बल्लेबाजी में कुछ भी पक्का नहीं है। यह टीम 400 पार भी जा सकती है और 200 के अंदर भी सिमट सकती है। हालांकि टीम में इतनी फायरपावर है कि सस्ते में सिमटना मुश्किल लगता है।

यहां मिशेल स्र्टाक की अगुआई वाले आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजी आक्रमण को परेशानी हो सकती है। स्र्टाक विश्व स्तर के गेंदबाज हैं। उनके अलावा पैट कमिंस, नाथन कल्टर नाइल और स्टेइनिस हैं। स्पिन में टीम के पास एडम जाम्पा का विकल्प है।

ये भी पढ़ें: विश्व कप में जीत के बाद बोले रोहित, इसलिए बना पाए पहले मैच में ही शतक

टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने ऐसे संकेत दिए हैं कि अंतिम-11 में विंडीज के खिलाफ टीम में शायद ही कोई बदलाव हो।

टीमें ( सम्भावित) :

आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), जेसन बेहरनडार्फ, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, उस्मान ख्वाजा, नाथन लॉयन, शॉन मार्श, ग्लैन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, डेविड वार्नर, एडम जाम्पा।

वेस्टइंडीज : जेसन होल्डर (कप्तान), क्रिस गेल, इविन लुइस, डारेन ब्रावो, शिमरोन हेटमायेर, एशले नर्स, फाबियान एलेन, आंद्रे रसेल, कार्लोस ब्रैथवेट, निकोलस पूरन (विकेटकीपर), शाई होप (विकेटकीपर), केमर रोच, ओशाने थॉमस, शेनन गैब्रिएल, शेल्टन कॉटरेल।