लंदन : विराट कोहली ने टॉस जीतकर हरे विकेट पर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। मैच में हार के बाद विराट ने कहा कि हमारे लिए सबकुछ योजनाओं के अनुरूप नहीं हुआ। हमने पहले बल्लेबाजी का फैसला यह देखकर किया था कि वर्ल्ड कप के दौरान इंग्लैंड में कुछ जगहों पर बारिश की संभावनाओं के बीच घासदार पिचों पर हमें ऐसी परिस्थितियों का हमें सामना करना पड़ सकता है।

कोहली ने कहा कि आसमान में बादल होने की स्थिति में भारतीय शीर्ष क्रम के विफल होने के बाद निचले क्रम को अगले हफ्ते शुरू होने वाले आईसीसी विश्व कप के दौरान अपनी टीम को उबारने के लिये तैयार होना चाहिए।

भारतीय टीम 39.2 ओवर में 179 रन पर सिमट गयी जिसमें केवल रविंद्र जडेजा 50 गेंद में 54 रन और हार्दिक पंड्या 37 गेंद में 30 रन ही बना सके। कोहली ने स्वीकार किया कि उनकी टीम अपनी योजना के अनुसार कार्यान्वयन नहीं कर सकी।

इसे भी पढ़ें :

पहले वार्म अप मैच में 6 विकेट से हार गई टीम इंडिया, गेंदबाजी व बल्लेबाजी में चमका न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड की टीम ने 37.1 ओवर में चार विकेट गंवाकर 180 रन बनाकर छह विकेट से जीत हासिल की। कोहली ने कहा, ‘‘योजना के अनुसार नहीं चल सके। हालांकि आगे अच्छी चुनौती मिलेगी। इंग्लैंड में जब कुछ मैदानों पर आसमान में बादल छाये हों तो आप इस तरह की उम्मीद कर सकते हैं। 50 रन पर चार विकेट गंवाने के बाद 180 रन बनाना अच्छा प्रयास है।''

उन्होंने कहा, ‘‘विश्व कप जैसे टूर्नामेंट में कभी कभार शीर्ष क्रम विफल हो सकता है इसलिये हार्दिक ने रन जुटाये। महेंद्र सिंह धोनी ने दबाव कम किया और जडेजा का अर्धशतक जड़ना, कुछ सकारात्मक चीजें थीं।'' भारत की गेंदबाजी के बारे में कोहली ने कहा, ‘‘हमने अच्छी गेंदबाजी की। वे चार-साढ़े चार प्रति ओवर से रन बना रहे थे और इसे देखा जाये तो हमने अच्छा किया।