World Cup के 44 साल के इतिहास में बने 107 कप्तान, नहीं टूटा गांगुली का यह रिकॉर्ड 

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (फाइल फोटो) - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : भारतीय टीम विश्व कप 2019 के लिए इंग्लैंड रवाना हो चुकी है। हर बार की तरह इस बार भी विश्व कप में कई रिकॉर्ड टूटेंगे तो कई बनेंगे, लेकिन सौरव गांगुली का एक ऐसा रिकॉर्ड है, जो 44 साल के इतिहास में 107 खिलाड़ी बतौर कप्तान नहीं तोड़ पाए।

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने अपने खेल और कप्तानी की बदौलत भारतीय टीम को एक नई पहचान दी। एक्सपर्ट का मानना है कि सौरव ही वो कप्तान हैं, जिन्होंने टीम इंडिया को जज्बे के साथ जोश भी दिया और जीतने की आदत डाली। सौरव गांगुली ने विदेशी धरती पर भारतीय टीम को जीतना सिखाया, लेकिन वह विश्व कप नहीं दिला पाए।

विश्व कप 2003 में उनकी कप्तानी में टीम जरूर फाइनल तक पहुंची, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। फिर भी यह विश्व कप सौरव गांगुली के लिए यादगार रहा और उन्होंने ऐसा रिकॉर्ड बनाया, जो अब तक नहीं टूट पाया।

यह भी पढ़ें :

Video : रिटायरमेंट के बाद क्या करने वाले हैं धोनी, शेयर किया ये बड़ा राज

World Cup 2019 : जानिए किन खिलाड़ियों के नाम दर्ज है सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड

सौरव गांगुली के नाम एक ऐसा वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है जो अब तक अटूट है। बतौर कप्तान सौरव गांगुली के नाम विश्व कप के एक सीजन में सबसे ज्यादा शतक लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है।

साल 2003 के वर्ल्ड कप में सौरव गांगुली ने 11 मैचों में 58.12 की औसत से 465 रन बनाए थे, जिसमें तीन शतक शामिल थे। विश्व कप के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था कि किसी खिलाड़ी ने बतौर कप्तान तीन शतक लगाए हों। दूसरे नंबर पर रिकी पोंटिंग थे। इनके नाम दो शतक का रिकॉर्ड है।

Advertisement
Back to Top