धोनी के कोच का कोहली पर बेबाक बयान, कही ये बड़ी बात

महेंद्र सिंह धोनी के साथ विराट कोहली। - Sakshi Samachar

कोलकाता। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कई बार कहा है कि वह भाग्यशाली हैं कि महेंद्र सिंह धोनी उनके साथ हैं। धोनी के बचपन के कोच केशव बनर्जी ने कोहली की बात को दोहराते हुए कहा कि धोनी, कोहली के लिए सबसे सही मेंटॉर हैं।

महेंद्र सिंह धोनी, क्रिकेट अकादमी के लांच से इतर केशव ने आईएएनएस से बातचीत में कहा कि धोनी के रणनीतिज्ञ कौशल का कोई सानी नहीं है और इसलिए जब मैच को पढ़ने तथा रणनीति बनाने की बात आती है तो धोनी इस स्थिति में कोहली के लिए सही मार्गदर्शक है।

केशव ने कहा, "मैच को पढ़ने और रणनीति बनाने में धोनी जैसा कोई नहीं है और कोहली के पास यह कौशल नहीं है। इसलिए कोहली को जब भी सलाह की जरूरत पड़ती है वह धोनी के पास आते हैं। अगर धोनी भारतीय टीम का हिस्सा नहीं होते तो कोहली की मदद करने के लिए कोई नहीं होता।"

राष्ट्रीय टीम में धोनी के बल्लेबाजी क्रम को लेकर काफी बहस होती रहती है क्योंकि अब धोनी पहले की तरफ फिनिशर के तौर पर सफल नहीं हो पा रहे हैं। केशव को लगता है कि धोनी को नंबर-4 पर आना चाहिए।

कोच ने कहा, "जब वह नंबर-4 पर बल्लेबाजी करते हैं तो वह समय लेते हैं क्योंकि उनके पास समय होता है। लेकिन जब वह नंबर-5 और नंबर-6 पर बल्लेबाजी करते हैं तो उन्हें आते ही मारना होता है क्योंकि उस समय हर गेंद पर रनों की दरकार होती है। तब वह जोखिम लेते हैं। मुझे लगता है कि धोनी को विश्व कप में नंबर-4 पर बल्लेबाजी करनी चाहिए। यह वैसे तो टीम प्रबंधन का फैसला है लेकिन यह मेरी निजी राय है। अगर वह नंबर-4 पर बल्लेबाजी करेंगे तो उनके बाद आने वाले अन्य बल्लेबाज आराम से खेल सकते हैं।"

इसे भी पढ़ें

IPL 2019 : ऋषभ पंत ने तोड़ा महेंद्र सिंह धोनी का 7 साल पुराना रिकॉर्ड

कई क्रिकेट पंड़ितों को लगता है कि युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत को विश्व कप में मौका मिलना चाहिए था, लेकिन केशव की राय अलग है।उन्होंने कहा, "अभी उन्हें मौका देना जल्दबाजी होगा। भारत के पास अच्छी बेंच स्ट्रैंग्थ है। उन्हें विश्व कप के बाद मौका मिल सकता है।"

केशव से जब पूछा गया कि क्या धोनी विश्व कप के बाद संन्यास ले लेंगे तो कोच ने कहा, "(हंसते हुए) आप उन्हें संन्यास लेते देखना चाहते हैं। आपको देखना चाहिए कि वह कितने फिट हैं। यह अहम बात है। धोनी कब संन्यास लेंगे यह उनकी पत्नी और पिता को भी नहीं पता होगा।"

Advertisement
Back to Top