चेन्नई : चेन्नई सुपर किंग्स की टीम आज अपने घरेलू मैदान यहां एम.ए. चिदम्बरम स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन के एक मैच में दिल्ली कैपिटल्स का सामना करेगी। इस मैच में दोनों टीमों की कोशिश पहले स्थान को अपने पास रखने की होगी।

दिल्ली ने छह सीजन के बाद प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया है। युवा कप्तान श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली इस युवा टीम ने खेल के सभी क्षेत्रों में कमाल का प्रदर्शन करते हुए अपने आप को साबित किया है। टीम के पास शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत जैसे बल्लेबाज हैं जो लगातार बल्ले से अपना योगदान दे रहे हैं।

धवन का बल्ला लगातार रन उगल रहा है। धवन ने अभी तक खेले 12 मैचों में 451 रन बनाए हैं। टीम को यहां तक पहुंचाने में धवन का अहम योगदान रहा है। कप्तान अय्यर का बल्ला भी अच्छा चल रहा है, लेकिन पंत और पृथ्वी शॉ के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी इस टीम को चेन्नई के खिलाफ खल सकती है। ऐसे में टीम प्रबंधन चाहेगा की उसके दो प्रतिभाशाली युवा बल्लेबाज बल्ले से निरंतरता हासिल करें।

निचले क्रम में टीम के पास शेरफन रदरफोर्ड, कोलिन इनग्राम, क्रिस मौरिस हैं जो बड़े शॉट्स लगाने में माहिर हैं।

दिल्ली का गेंदबाजी आक्रमण इस सीजन का सबसे बेहतर गेंदबाजी आक्रमणों में से एक हैं। कागिसो रबाडा की अगुआई में टीम ने गेंदबाजी में दमदार प्रदर्शन किया है। ईशांत शर्मा को जब मौका मिला है उन्होंने अपने अनुभव का बेहतरीन इस्तेमाल किया है।

दिल्ली ने पिछले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को अपने घर में 16 रन से मात दे न सिर्फ प्लेऑफ में जगह बनाई थी बल्कि पहले स्थान पर भी कब्जा किया था। चेन्नई के खिलाफ वह अपने शीर्ष स्थान को बचाने के लिए भरसक प्रयास करेगी।

वहीं, चेन्नई को आदत है कि वह पहले स्थान पर रहे। इसलिए दिल्ली को पटखनी देने के लिए महेंद्र सिंह धोनी की टीम बेताब होगी। चेन्नई अपने घर में खेल रही है इसलिए उसका आत्मविश्वास काफी ऊपर होगा। उसे हालांकि अपने घर में पिछले मैच में मुंबई इंडियंस से हार मिली थी, लेकिन यह उसकी अपने घर में इस सीजन की इकलौती हार है।

चेन्नई के पास टी-20 के बड़े नाम शेन वाटसन, ड्वायन ब्रावो, सुरेश रैना, घोनी हैं। इस सीजन वाटसन का बल्ला ज्यादा कुछ नहीं कर पाया था लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 96 रनों की पारी खेल उन्होंने फॉर्म में वापसी के संकेत दे दिए थे। धोनी पूरे सीजन कमाल की फॉर्म में हैं। उनका फॉर्म में होना दिल्ली के लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय हो सकता है।

इसे भी पढ़ें :

IPL 2019 : बैंगलोर-राजस्थान के मैच में बारिश बनी बाधा, RCB प्लेआफ की दौड़ से बाहर

वहीं, गेंदबाजी में शार्दूल ठाकुर, हरभजन सिंह, ब्रावो, वाटसन, मिशेल सैंटनर पर टीम की जिम्मेदारी होगी।

चेन्नई : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), अंबाती रायडू, शेन वाटसन, सुरेश रैना, केदार जाधव, रविंद्र जडेजा, ड्वायन ब्रावो, दीपक चहर, शार्दूल ठाकुर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर, मुरली विजय, ध्रुव शौरे, फाफ डु प्लेसिस, ऋतुराज गायकवाड़, मिशेल सैंटनर, डेविड विली, सैम बिलिंग्स, समीर, मोनू कुमार, कर्ण शर्मा, केएम आसिफ, मोहित शर्मा।

दिल्ली : श्रेयस अय्यर (कप्तान), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), पृथ्वी शॉ, अमित मिश्रा, अवेश खान, राहुल तेवतिया, जयंत यादव, कॉलिन मुनरो, क्रिस मौरिस, कगिसो रबादा, संदीप लामिछाने, ट्रेंट बाउल्ट, शिखर धवन, हनुमा विहारी, अक्षर पटेल, ईशांत शर्मा, अंकुश बैंस, नाथू सिंह, कोलिन इंग्राम, शेरफेन रदरफोर्ड।