मोहाली : किंग्स इलेवन पंजाब ने मंगलवार को अपने घर आई.एस. बिंद्रा स्टेडियम में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के मैच में राजस्थान रॉयल्स को 12 रनों से हरा दिया।

पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए लोकेश राहुल (50), डेविड मिलर (40) और कप्तान रविचंद्रन अश्विन की चार गेंदों पर 17 रनों की पारी की सहायता से 20 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 182 रन बनाए। मेहमान राजस्थान 20 ओवरों में सात विकेट खोकर 168 रन ही बना सकी।

मजबूत लक्ष्य के सामने राजस्थान को जिस तरह की तेज शुरुआत चाहिए थी वह उसे मिली, लेकिन आखिरी के ओवरों में उसके बल्लेबाज तेजी से रन नहीं बना पाए। राहुल त्रिपाठी (50) और जोस बटलर (23) ने चार ओवर में टीम का स्कोर 38 कर दिया। बटलर पांचवें ओवर की पहली ही गेंद पर बड़ा शॉट मारने के प्रयास में आउट हो गए।

त्रिपाठी अकेले नहीं हुए। संजू सैमसन (27)ने बटलर की कमी पूरी की और त्रिपाठी का अच्छा साथ दिया। दोनों टीम को धीरे-धीरे लक्ष्य के करीब ले जा रहे थे। पंजाब के लिए यह साझेदारी खतरनाक हो रही थी जिसे तोड़ने के लिए अश्विन ने खुद गेंद थामी। अश्विन सफल भी रहे। अश्विन की गेंद पर स्वीप खेलने की कोशिश में संजू बोल्ड हो गए। इस समय राजस्थान का स्कोर दो विकेट पर 97 रन था।

त्रिपाठी ने 16वें ओवर की चौथी गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया। अपने 50 रन के तुरंत बाद वह पवेलियन लौट लिए। त्रिपाठी को भी अश्विन ने पवेलियन की राह दिखाई। राजस्थान के बल्लेबाज ने 45 गेंदें खेलीं जिनमें चार पर चौके लगाए। यहां से राजस्थान को 24 गेंदों पर 56 रनों की जरूरत थी।

आईपीएल पदार्पण कर रहे एशले टर्नर खाता नहीं खोल पाए और अगले ओवर में मुरुगन अश्विन का शिकार बने। अगले ओवर की पहली ही गेंद पर जोफ्रा आर्चर (1) मोहम्मद शमी की गेंद पर राहुल के हाथों लपके गए।

यहां से राजस्थान की जीत नामुमकिन सी लग रही थी। हुआ भी रही। रहाणे (26), श्रेयस गोपाल (0) सस्ते में पवेलियन लौट लिए। स्टुअर्ट बिन्नी की 11 गेंदों में तीन छक्के और एक चौके की मदद से खेली गई 31 रनों की पारी राजस्थान को तीसरी जीत नहीं दिला सकी।

पंजाब के लिए अश्विन, अर्शदीप सिंह, मोहम्मद शमी ने दो-दो विकेट लिए। मुरुगन अश्विन को एक सफलता मिली।

इससे पहले, क्रिस गेल (30) और राहुल पंजाब की टीम को तेज शुरुआत नहीं दे पाए। गेल अपने रंग में आते, इससे पहले ही आर्चर ने उन्हें विकेट के लिए पीछे सैमसन के हाथों कैच करा दिया। मयंक अग्रवाल ने जरूर आक्रामकता दिखाई, दो शानदार छक्का तथा एक चौका मारा, लेकिन वह अपनी पारी को 26 के निजी स्कोर से आगे नहीं ले पाए। लेग स्पिनर ईश सोढ़ी ने राजस्थान को उनसे छुटकारा दिलाया।

इसे भी पढ़ें :

IPL 2019 : हार्दिक पांड्या ने मुंबई इंडियंस को दिलाई जीत, RCB प्लेऑफ की दौड़ से बाहर

राहुल दूसरे छोर पर थे और डेविड मिलर उनके साथ थे। लेकिन, रनगति में ज्यादा इजाफा नहीं हो रहा था। 13 ओवरों में पंजाब का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 97 रन ही था।

यहां से राहुल और मिलर ने आक्रामक बल्लेबाजी दिखानी शुरू की और हर ओवर में एक-दो बाउंड्री लेने लगे। 15 ओवर में इन दोनों ने टीम का स्कोर 136 रनों तक पहुंचा दिया।

राहुल ने 17वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका मारकर अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। वह अगले ओवर में जयदेव उनादकट का शिकार हो गए। उनका विकेट 152 के कुल स्कोर पर गिरा। राहुल ने 47 गेंदों पर तीन चौके और दो छक्कों की मदद से अर्धशतक जमाया।

मिलर भी आखिरी ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए। उन्होंने 27 गेंदों की पारी में दो चौके और दो छक्के मारे।

आखिरी ओवर की पांच गेंदों पर पंजाब ने कुल 18 रन लेकर मजबूत स्कोर हासिल किया। जिसमें से अश्विन ने दो पर छक्के और एक पर चौका मारा। राजस्थान के लिए आर्चर ने तीन विकेट लिए। धवल कुलकर्णी, उनादकट और ईश सोढ़ी ने एक-एक सफलता हासिल की।

इसे भी पढ़ें :

World Cup: 15 खिलाड़ियों के अलावा ये चार खिलाड़ी भी टीम के साथ जाएंगे इग्लैंड, जानें कैसी होगी पूरी टीम

पंजाब ने मोएजेस हेनरिक्स को पहला मैच खेलने का मौका दिया था लेकिन वह टास से ठीक पहले चोटिल हो गये जिससे डेविड मिलर को अंतिम एकादश में बनाये रखा गया।