चेन्नई: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिह धोनी को हमेशा 'कैप्टन कूल' के नाम से जाना जाता है। मैच में जैसी भी स्थिति हो वह अपनी भावनाओं को जाहिर नहीं होने देते हैं। लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में शनिवार को धोनी बिल्कुल अपनी स्वभाव के विपरीत दिखाई दिए।

लक्ष्य का पीछा करने के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब को जीत के लिए आखिरी 12 गेंद पर 39 रनों की जरूरत थी। 19वां ओवर धोनी ने दीपक चहर को डालने के लिए दिया।

चहर ने पहली ही गेंद बीमर के रूप में काफी खतरनाक फेंकी, जिसपर बल्लेबाज सरफराज खान ने थर्ड मैन की दिशा में चौका जड़ दिया। पंजाब को फ्री हिट मिली, जिसपर चहर ने एक बार फिर बीमर गेंद फेंकी। इस गेंद पर दो रन आए।

इसे भी पढ़ेंः

जब धोनी ने वाटसन और ताहिर के बेटों के साथ लगाई रेस

फंसे हुए मुकाबले में एक के बाद एक दो नो-बाल फेंकने से कप्तान धोनी गुस्से में आ गए। धोनी ने चहर के पास पहुंचकर गंभीर मुद्रा में उन्हें जमकर फटकार लगाई। इस दौरान सुरेश रैना भी वहां आ पहुंचे। इसके बाद धोनी विकेटकीपिंग के लिए चले गए और चहर इधर अपने बॉलिंग मार्क पर लौट आए।

धोनी की डांट का असर चहर पर देखने को मिला। उन्होंने ओवर में कुल 13 रन दिए। चहर आखिरी गेंद पर डेविड मिलर का विकेट निकालने में भी कामयाब रहे। इस मैच में चेन्नई ने पंजाब पर 22 रनों से जीत दर्ज की।