कोहली के शतक और धोनी के छक्के से जीता भारत, ऑस्ट्रेलिया को दी 6 विकेट से मात 

महेंद्र सिंह धोनी - Sakshi Samachar

एडिलेड : विराट कोहली (104) की शानदार शतक और एमएस धोनी (55*) की अर्धशतकीय पारियों की बदौलत टीम इंडिया ने मंगलवार को दूसरे वन-डे में ऑस्ट्रेलिया पर शानदार जीत दर्ज की। एडिलेड के ओवल में खेले गए दूसरे मुकाबले में टीम इंडिया ने कंगारुओं को 6 विकेट से करारी शिकस्त दी। इस जीत के साथ तीन मैचों की वन-डे सीरीज 1-1 बराबर हो गई।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने जीत के लिए भारत को 299 रन का लक्ष्य दिया था। जवाब में टीम इंडिया ने 4 गेंदे शेष रहते ही मैच अपने नाम कर लिया। एमएस धोनी 55* दिनेश कार्तिक 25 रन बनाकर नाबाद लौटे। दोनों के बीच 57 रन की नाबाद साझेदारी हुई।

इससे पहले भुवनेश्वर कुमार (4 विकेट) और मोहम्मद शमी (3 विकेट) ने अंतिम ओवरों में शानदार गेंदबाजी करते हुए मजबूत स्कोर की ओर बढ़ती दिख रही आस्ट्रेलिया को मंगलवार दूसरे वनडे मैच में निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 299 रनों पर ही सीमित कर दिया।

एडिलेड ओवल मैदान पर खेले जा रहे इस मैच में शॉन मार्श (131) और ग्लैन मैक्सवेल (48) जब तक मैदान पर थे तब तक आस्ट्रेलिया का 310 के पार जाना आसानी से मुमकिन लग रहा था, लेकिन भुवनेश्वर ने 48वें ओवर में दोनों के विकेट लेकर उसे 300 के अंदर ही रूकने पर मजबूर कर दिया। आस्ट्रेलिया ने आखिरी के पांच ओवरों में महज 38 रन बनाए और चार विकेट खोए।

मार्श-मैक्सवेल ने छठे विकेट के लिए 94 रनों की साझेदारी की। मार्श ने अपने करियर का सातवां शतक जमाया। उन्होंने अपनी पारी में 123 गेंदों का सामना कर 11 चौके और तीन छक्के मारे। मैक्सवेल ने 37 गेंदें खेली और पांच चौके तथा एक छक्का लगाया। मैक्सवेल थोड़ भाग्यशाली भी रहे। 43.3 ओवर में अंपायर ने उन्हें पदार्पण कर रहे मोहम्मद सिराज की गेंद पर पगबाधा आउट दे दिया था लेकिन रिव्यू में वह बच गए। कुछ देर बाद सिराज की ही गेंद पर रोहित शर्मा ने उनका मुश्किल कैच टपका दिया।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी आस्ट्रेलिया को खराब शुरुआत के बाद एक बार फिर उसके मध्य क्रम ने संभाला। एरॉन फिंच (6) सातवें ओवर की आखिरी गेंद पर एक बार फिर भुवनेश्वर की इनस्विंगर पर बोल्ड हो गए। इस समय आस्ट्रेलिया का स्कोर 20 रन था।

दूसरे सलामी बल्लेबाज एलेक्स कैरी (18) शमी की गेंद पर 26 के कुल स्कोर पर भुवनेश्वर के हाथों लपके गए। यहां से आस्ट्रेलियाई मध्यक्रम ने एक बार फिर मोर्चा संभाला और लगातार चार अर्धशतकीय साझेदारियां कर टीम को बड़े स्कोर की तरफ ले गए।

इन चारों साझेदारियों में मार्श हमेशा एक छोर पर खड़े रहे। कैरी के जाने के बाद उन्होंने उस्मान ख्वाजा (21) के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 56 रन जोड़े। यह साझेदारी अच्छी जा रही थी लेकिन रवींद्र जडेजा ने अपनी बेहतरीन फील्डिंग का शानदार मुजायरा पेश कर इस साझेदारी को तोड़ा। ख्वाजा और मार्श ने एक वाजिब रन लेना चाहा लेकिन जडेजा की रॉकेट सी थ्रो सीधे विकेटों पर लगी और ख्वाजा पवेलियन लौट लिए।

मार्श को फिर पीटर हैंड्सकॉम्ब का साथ मिला। 22 गेंदों पर 20 रन बनाने वाले हैंड्सकॉम्ब ने मार्श के साथ चौथे विकेट के लिए 52 रन जोड़े। इस बार जडेजा ने अपनी फिरकी से कमाल दिखाते हुए इस साझेदारी को तोड़ा। जडेजा की गेंद पर विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने हैंड्सकॉम्ब को स्टम्प किया।

मार्कस स्टोइनिस (29) ने एक बार फिर अपने बल्ले की उपयोगिता साबित करते हुए मार्श के साथ पांचवें विकेट के लिए 55 रन जोड़े। 189 के कुल स्कोर पर स्टोइनिस शमी की गेंद पर धोनी के हाथों लपके गए।

यहां से मैक्सवेल और मार्श ने अपनी जोड़ी बनाई और टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया। इन दोनों के रहते मेजबान टीम का 320 के आस-पास जाना संभव लग रहा था, लेकिन डेथ ओवरों के विशेषज्ञ कहे जाने वाले भुवनेश्वर ने पहले मैक्सवेल को अपने जाल में फंसाया और फिर एक गेंद बाद उसी तरह से मार्श को आउट कर आस्ट्रेलिया के 300 के पार जाने की संभावना को बड़ा झटका दिया।

पारी की आखिरी गेंद पर नाथन लॉयन (नाबाद 12) ने भुवनेश्वर पर छक्का मार आस्ट्रेलिया को 298 के कुल स्कोर तक पहुंचाया।

इसे भी पढ़ें :

श्रीसंत ने की पांड्या और राहुल की तरफदारी, विश्व कप में बताई इनकी जरूरत

टीमें

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अंबाती रायडू, दिनेश काíतक, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज।

आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकॉम्ब, मार्कस स्टोइनिस, ग्लैन मैक्सवेल, नाथन लॉयन, पीटर सिडल, झाए रिचर्डसन, जेसन बेहेरेनडॉर्फ।

Advertisement
Back to Top