IND Vs AUS : टीम इंडिया की जीत के बीच कमिंस बने दीवार, रोमांचक मोड़ पर पहुंचा टेस्ट

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी - Sakshi Samachar

मेलबर्न : टीम इंडिया ने शनिवार को मेलबर्न टेस्ट जीतने की तैयारी कर ली है। विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम इंडिया ऐतिहासिक जीत से केवल दो विकेट दूर है। भारतीय टीम के पास चौथे दिन टेस्ट जीतकर इतिहास रचने का सुनहरा मौका था, लेकिन पैट कमिंस दीवार की तरह अड़ गए और मुकाबले एक दिन आगे बढ़ाने में कामयाबी हासिल की।

चौथे दिन स्टंप्स के समय ऑस्ट्रेलिया ने 85 ओवर में 8 विकेट खोकर 258 रन बना लिए हैं। पैट कमिंस 60* और नाथन लियोन 6* रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं। भारत को जीत के लिए दो विकेटों की दरकार है तो वहीं आस्ट्रेलिया को जीत के लिए 141 रन चाहिए।

भारत ने एक समय आस्ट्रेलिया के सात विकेट 176 रनों पर ही गिरा दिए थे, लेकिन कमिंस ने पहले मिशेल स्टार्क (18) के साथ आठवें विकेट के लिए 39 और फिर नाथन लॉयन (नाबाद 6) के साथ नौवें विकेट के लिए 43 रनों की साझेदारी कर भारत की जीत के इंतजार को एक दिन के लिए बढ़ा दिया। कमिंस 103 गेंदों का सामना कर चुके हैं जिनमें से उन्होंने पांच पर चौके तो एक पर छक्का मारा है।


भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 443 रनों पर घोषित की थी और आस्ट्रेलिया को पहली पारी में 151 रनों पर ढेर कर दिया। भारत के पास आस्ट्रेलिया को फॉलोऑन देने का मौका था, लेकिन मेहमान टीम ने अपनी दूसरी पारी खेलने का फैसला किया। दूसरी पारी में वह 292 रनों की बढ़त के साथ उतरी थी।

भारतीय बल्लेबाज दूसरी पारी में पहली पारी की तरह प्रदर्शन नहीं कर पाए और चौथे दिन पहले सत्र में भारत ने अपनी दूसरी पारी आठ विकेट के नुकसान पर 106 रनों पर घोषित कर दी। पहली पारी के आधार पर मिली बढ़त के चलते भारत ने आस्ट्रेलिया को बड़ा लक्ष्य दिया।

दूसरी पारी में भारत को बुरी स्थिति में पहुंचाने के जिम्मेदार भी कमिंस थे जिन्होंने छह विकेट अपने नाम किए। कमिंस ने पहली पारी में भी भारत के तीन विकेट झटके थे। दूसरी पारी में कमिंस के अलावा जोश हेजलवुड ने दो विकेट लिए।

भारत के लिए पदार्पण कर रहे मयंक अग्रवाल ने दूसरी पारी में सबसे ज्यादा 42 रन बनाए जिसके लिए उन्होंने 102 गेंदें खेलीं और चार चौकों के अलावा दो छक्के भी मारे। मयंक के अलावा ऋषभ पंत ने 43 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से 33 रनों की पारी खेली।

मजबूत लक्ष्य का पीछा करने उतरी आस्ट्रेलिया के पास जीत हासिल करने के लिए पूरे दो दिन का समय था, लेकिन पहली पारी में भारतीय गेंदबाजों ने जो कहर बरपाया था वह दूसरी पारी में भी देखने को मिला। नतीजन आस्ट्रेलिया को अच्छी शुरुआत नहीं मिली और छह के कुल स्कोर पर एरॉन फिंच (3) जसप्रीत बुमराह की गेंद पर विराट कोहली के हाथों लपके गए।


इसे भी पढ़ें :

बुमराह के खेल पर अमिताभ बोले : ‘..जिस दिन हमारी खोपड़ी सटकली , यही हश्र होगा..!’

मार्कस हैरिस (13) की पारी का अंत रवींद्र जडेजा ने किया। पहले सत्र की समाप्ति तक आस्ट्रेलिया का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 44 रन था। उसे अब अपने दो सबसे भरोसेमंद बल्लेबाजों उस्मान ख्वाजा (33) और शॉन मार्श (44) से उम्मीद थी।

जिम्मेदारी को समझते हुए यह दोनों संयम के साथ बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन मोहम्मद शमी की एक गेंद ख्वाजा के पैड पर जा कर लगी और अंपायर ने उन्हें पवेलियन भेजने का आदेश दे दिया। ख्वाजा का विकेट 63 के कुल स्कोर पर गिरा।

मार्श को ट्रेविस हेड (34) का साथ मिला। दोनों ने मिलकर चौथे विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी की। पहली पारी में आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के लिए मुश्किल खड़ी करने वाले बुमराह एक बार फिर यह साझेदारी तोड़ने में कामयाब रहे। उन्होंने मार्श को 114 के कुल स्कोर पर आउट किया। मार्श ने 72 गेंदों की पारी में चार चौके और एक छक्का मारा।

मिशेल मार्श (10) कुछ खास नहीं कर पाए। दिन के तीसरे सत्र में ईशांत ने हेड की पारी का अंत कर आस्ट्रेलिया को छठा झटका दिया। कप्तान टिम पेन की 26 रनों की पारी का अंत जडेजा ने उन्हें पंत के हाथों कैच कराते हुए किया।

यहां से स्टार्क और कमिंस ने भारत की जीत को टालने का काम शुरू किया। स्टार्क को 215 के कुल स्कोर पर आउट कर शमी ने उम्मीद जगाई की भारत चौथे दिन ही जीत हासिल कर लेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

कमिंस को नाथन लॉयन का साथ मिला और दोनों ने मिलकर भारत की जीत के इंतजार को पांचवें दिन तक बढ़ा दिया। लॉयन ने 38 गेंदों का सामना कर सिर्फ छह रन बनाए हैं। भारत के लिए अभी तक जडेजा ने तीन विकेट लिए हैं। बुमराह और शमी ने दो-दो विकेट अपने नाम किए हैं तो वहीं ईशांत को एक विकेट मिला है।


बता दें कि लंच तक ऑस्ट्रेलिया ने 14 ओवर में दो विकेट खोकर 44 रन बना लिए हैं। उस्मान ख्वाजा 26* और शॉन मार्श 2* रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। मेजबान टीम को जीतने के लिए 355 रन की जरूरत है जबकि उसके 9 विकेट शेष हैं।

विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत पहली पारी के हीरो जसप्रीत बुमराह ने बिगाड़ी। बुमराह ने कंगारू ओपनर आरोन फिंच (3) को कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच आउट कराया। जल्द ही रवींद्र जडेजा ने मार्कस हैरिस (13) को शॉर्ट लेग पर मयंक अग्रवाल के हाथों कैच आउट कराया। मयंक ने अच्छा कैच लपका।

इससे पहले टीम इंडिया ने मेलबर्न में जारी बॉक्सिंग-डे टेस्ट के चौथे दिन अपनी दूसरी पारी 37.3 ओवर में 8 विकेट पर 106 रन के स्कोर पर घोषित की। भारतीय टीम को पहली पारी में 292 रन की बढ़त हासिल थी, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट जीतने के लिए 399 रन का मुश्किल लक्ष्य मिला।

Advertisement
Back to Top