India vs Australia 2nd Test, Day 4 : भारत दूसरी पारी में 112/5 रन 

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया पर्थ टेस्ट  - Sakshi Samachar

पर्थ : मेजबान आस्ट्रेलिया ने यहां पर्थ स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार का खेल खत्म होने तक भारत के दूसरी पारी में पांच विकेट 112 रनों पर गिरा कर उसे हार की तरफ धकेल दिया है।

आस्ट्रेलिया ने भारत के सामने जीत के लिए 287 रनों का लक्ष्य रखा है। आखिरी दिन भारत को जीतने के लिए 175 रन और बनाने हैं जबकि आस्ट्रेलिया को जीत के लिए पांच विकेटों की दरकार है। हनुमा विहारी 24 और ऋषभ पंत नौ रन बनाकर नाबाद लौटे।

आस्ट्रेलिया के लिए नाथन लॉयन और जोश हेजलवुड दो-दो विकेट लिए हैं। मिशेल स्टार्क के हिस्से एक विकेट आया है।

आस्ट्रेलिया ने दिन की शुरुआत चार विकेट के नुकसान पर 132 रनों के साथ की थी। टीम अपने खाते में 111 रन जोड़कर पवेलियन लौट ली। उसके लिए दूसरी पारी में उस्मान ख्वाजा ने सबसे ज्यादा 72 रन बनाए। कप्तान टिम पेन ने 37 रनों का योगदान दिया। भारत के लिए मोहम्मद शमी ने छह विकेट लिए। जसप्रीत बुमराह ने तीन विकेट अपने नाम किए। ईशांत शर्मा के हिस्से एक विकेट आया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत लगातार विकेट खोती रही। उसने लोकेश राहुल (0), मुरली विजय (20), चेतेश्वर पुजारा (4), विराट कोहली (17) और अजिंक्य रहाणे (30) के विकेट खो दिए हैं।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 287 रनों का जीत का लक्ष्य रखा है। आस्ट्रेलिया की दूसरी पारी 243 रन बनाकर आल आउट हो गई। समी ने सबसे अधिक 6 विकेट लिये।

इसके पहले ऑस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन लंच तक दूसरी पारी में चार विकेट पर 190 रन बनाए। आस्ट्रेलिया की कुल बढ़त 233 रन की हो गई है। लंच के समय उस्मान ख्वाजा 67 जबकि कप्तान टिम पेन 37 रन बनाकर खेल रहे थे।

इसके पहले आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने भारत के खिलाफ जारी दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार का खेल खत्म होने तक अपनी दूसरी पारी में चार विकेट के नुकसान पर 132 रन बना लिए हैं। उसकी बढ़त 175 रनों की हो चुकी है।

वाका स्टेडियम पर जारी इस मैच में आस्ट्रेलिया ने मेहमान टीम के खिलाफ 175 रनों की बढ़त बना ली है। उस्मान ख्वाजा (41) और कप्तान टिम पेन (8) नाबाद लौटे।

तीसरे दिन भारत की पहली पारी 283 रनों पर समाप्त करने के बाद आस्ट्रेलिया ने चायकाल तक बिना कोई विकेट गंवाए 33 रनों का स्कोर बना लिया था। हालांकि, इस मैच में एरॉन फिंच (25) रिटायर्ड हर्ट हो गए। मार्क हैरिस (20) नाबाद थे।


इसके बाद, तीसरे सत्र में आस्ट्रेलिया के लिए पहली पारी में अहम योगदान देने वाले हैरिस ने ख्वाजा के साथ 26 रन ही जोड़े थे कि भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने हैरिस को बोल्ड कर आस्ट्रेलिया का पहला विकेट गिरा दिया।

इसके बाद मोहम्मद शमी ने ख्वाजा का साथ देने आए शॉन मार्श (5) को अधिक समय तक मैदान पर नहीं टिकने दिया और उन्हें ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट करा आस्ट्रेलिया को दूसरा झटका दिया।

पिच की एक छोर पर खड़े ख्वाजा तीसरे विकेट के लिए मैदान पर उतरे पीटर हैंड्सकॉम्ब (13) के साथ मजबूत साझेदारी की कोशिश में थे लेकिन 85 के स्कोर पर उनकी यह कोशिश हैंड्सकॉम्ब के आउट होने के साथ ही खत्म हो गई। उन्हें इशांत शर्मा ने पगबाधा आउट किया।

आस्ट्रेलिया के लिए पहले टेस्ट मैच में अच्छा प्रदर्शन करने वाले ट्रेविस हेड ने ख्वाजा के साथ टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया लेकिन ख्वाजा और हेड की इस साझेदारी को शमी ने आगे नहीं बढ़ने दिया। उन्होंने 120 के स्कोर पर इशांत के हाथों हेड को कैच आउट करा पवेलियन का रास्ता दिखाया।

ख्वाजा ने इसके बाद दिन का खेल समाप्त होने तक कोई और नुकसान होने दिए बगैर कप्तान टिम के साथ 12 रन जोड़े और टीम को 132 के स्कोर तक पहुंचाया। इस पारी में भारत के लिए शमी ने दो विकेट लिए, वहीं बुमराह और इशांत को एक-एक सफलता हाथ लगी।

इसे भी पढ़ेंः

कोहली ने शतक पूरा करते ही बनाया एक और रिकॉर्ड, सबसे कम पारियों में यह उपलब्धि

इससे पहले, भारत ने कप्तान विराट कोहली (123) के शतक और अजिंक्य रहाणे (51) के अर्धशतक के दम पर अपनी पहली पारी में 283 रनों का स्कोर खड़ा किया। आस्ट्रेलिया के लिए नाथन ल्योन ने सबसे अधिक पांच विकेट हासिल किए। मिशेल स्टॉर्क और जोश हेजलवुड को दो-दो सफलताएं मिली, वहीं पैट कमिंस एक विकेट लेने में सफल रहे।

उल्लेखनीय है कि चार टेस्ट मैचों की सीरीज में पहले टेस्ट मैच में 31 रनों से जीत हासिल कर भारतीय टीम ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 1-0 की बढ़त बना रखी है।

Advertisement
Back to Top