हैदराबाद : टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैच की सीरीज का पहला मुकाबला एडिलेड में खेला जा रहा है। आस्ट्रेलिया को पहली पारी में 235 रन पर समेटने के बाद भारत ने पहले क्रिकेट टेस्ट में पहली पारी में 15 रन की बढत ले ली लेकिन बारिश के कारण तीसरे दिन खेल बार बार बाधित हुआ । भारत ने पहली पारी में 250 रन बनाये थे ।

ऑस्ट्रेलिया ने कल के स्कोर सात विकेट पर 191 रन से आगे खेलते हुए 91वें ओवर में 200 रन पूरे किये । मिशेल स्टार्क (15) ने जसप्रीत बुमराह की गेंद पर विकेट के पीछे कैच थमाया । बुमराह ने 47 रन देकर तीन विकेट लिये ।

ट्रेविस हेड (61) की नाबाद अर्धशतक के बावजूद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम भारत के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में सात विकेट के नुकसान पर 191 रनों का ही स्कोर खड़ा कर पाई।

भारतीय टीम की पहली पारी के आधार पर ऑस्ट्रेलिया अब भी 59 रन पीछे है।

आस्ट्रेलिया के लिए शुक्रवार को पहली पारी की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसे 100 का आंकड़ा पार करने से पहले ही अपने चार बल्लेबाजों को गंवाना पड़ा।

सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच पहले ओवर की तीसरी गेंद पर इशांत शर्मा के हाथों बोल्ड हो गए। उन्हें खाता खोलने का मौका भी नहीं मिला। इसके बाद, मार्कस हैरिस (26) ने उस्मान ख्वाजा (28) के साथ 45 रन जोड़कर टीम को संभालने की कोशिश की लेकिन रविचंद्रन अश्विन ने इस कोशिश पर पानी फेर दिया।

मार्कस 45 के स्कोर पर अश्विन की गेंद पर मुरली विजय के हाथों लपके गए। उनके आउट होने के बाद ख्वाजा का साथ देने आए शॉन मार्श (2) को अश्विन ने ही बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखा दिया।

इसके बाद भी अश्विन नहीं रुके। उन्होंने ख्वाजा को भी पवेलियन भेजकर आस्ट्रेलिया की टीम को बैकफुट पर धकेल दिया। ख्वाजा अश्विन की गेंद पर विकेट के पीछे खड़े ऋषभ पंत के हाथों लपके गए।

पीटर हैंड्सकॉम्ब (34) ने हेड के साथ टीम की पारी को संभालने का प्रयास किया। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 33 रन जोड़े और टीम को 120 के स्कोर तक पहुंचाया लेकिन इसी स्कोर पर जसप्रीत बुमराह आस्ट्रेलिया के लिए नई सरदर्दी बनकर सामने आए और उन्होंने हैंड्सकॉम्ब को पंत के हाथों कैच आउट करा दिया।

एक छोर पर खड़े हेड को अब छठे विकेट के लिए मैदान पर उतरकर आए कप्तान टिम पेन से अच्छी साझेदारी की आशा थी लेकिन इस आशा को समाप्त होने में ज्यादा समय नहीं लगा। इशांत ने 127 के स्कोर पर टिम को भी पवेलियन का रास्ता दिखाया।

यहां पैट कमिंस (10) ने हेड का साथ दिया। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 50 रनों की अर्धशतकीय साझेदारी कर आस्ट्रेलिया को संभाला लेकिन बुमराह ने इस साझेदारी को मजबूत नहीं होने दिया। उन्होंने इसी स्कोर पर कमिंस को पगबाधा आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखाया।

स्टॉर्क ने इसके बाद हेड का साथ देते हुए स्टम्प्स तक कोई और नुकसान होने दिए बगैर 14 रन जोड़कर आस्ट्रेलिया को 191 के स्कोर तक पहुंचाया और इसके साथ ही दिन का खेल समाप्त हो गया।

भारतीय टीम के लिए इस पारी में अश्विन ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए, वहीं इशांत और जसप्रीत को दो-दो विकेट हासिल हुए।

दोनों टीमों के गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इससे पहले, आस्ट्रेलिया के गेंदबाजों ने भारतीय टीम की पहली पारी को 250 रनों के स्कोर पर समाप्त कर दिया था। इस पारी में भारत के लिए सबसे अधिक रन चेतेश्वर पुजारा (123) ने बनाए।

दूसरे दिन का खेल शुरू हो चुका है। 250 रनों पर भारतीय पारी समेटने के बाद ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत भी बेहद निराशाजनक रही।

समाचार लिखे जाने तक कंगारू टीम ने एक विकेट के नुकसान पर 47 रन बना लिए हैं। उस्मान ख्वाजा (18 ) और शॉन मार्श (1) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

डेब्यूटेंट मार्कस हैरिस 26 रन बनाकर आउट हुए। ऑस्ट्रेलिया का पहला विकेट आरोन फिंच के रूप में गिरा। तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने पहले ओवर की तीसरी गेंद पर ही फिंच की गिल्लियां बिखेर दी।

इससे पहले चेतेश्वर पुजारा (123) के जुझारू शतक ने टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट के पहले दिन सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने गुरुवार को स्टंप्स तक 87.5 ओवर में 9 विकेट खोकर 250 रन बनाए। मोहम्मद शमी 6 रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। पुजारा के रनआउट होते ही अंपायरों ने पहले दिन स्टंप्स की घोषणा की।

पुजारा ने 231 गेंदों में 6 चौकों और एक छक्के की मदद से अपने टेस्ट करियर का 16वां शतक पूरा किया। सौराष्ट्र के बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरा शतक जमाया। इस दौरान पुजारा ने अपने टेस्ट करियर में 5,000 रन का आंकड़ा भी पार किया। समाचार लिखे जाने तक भारत ने भारत ने 8 विकेट के नुकसान पर 231 बना लिये हैं।पुजारा 117 रन बनाकर क्रिज पर डटे हुए हैं।

बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर टीम इंडिया ने अभी तक कोई भी टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। टीम इंडिया को पिछली विदेशी सीरीज में में दक्षिण अफ्रीका के हाथों 1-2 से, जबकि इंग्लैंड के हाथों 1-4 से करारी हार झेलनी पड़ी थी

इसे भी पढ़ें :

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के लिए भारत ने चुने ये 12 खिलाड़ी

टीम इंडिया को बड़ा झटका, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट मैच से बाहर हुआ ये खिलाड़ी

इतिहास :

ऑस्ट्रेलिया में भारत ने कुल 44 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उसे केवल पांच में ही जीत हासिल हुई है। इसके अलावा उसे 28 में हार मिली है। साल 2003-04 में राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में टीम इंडिया ने आखिरी बार एडिलेड के ग्राउंड में बाजी मारी थी, तब अजीत अगरकर ने दूसरी पारी में छह विकेट चटकाकर कंगारुओं को बैकफुट पर धकेल दिया था।

टीमें इस प्रकार:

भारतः विराट कोहली, मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह।

ऑस्ट्रेलियाः मार्कस हैरिस, आरोन फिंच, उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकोंब, ट्रेविस हेड, टिम पैन, पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, नाथन लियोन और जोश हेजलवुड।