मुंबई : स्क्रिप्ट राइटर सिद्धार्थ डे (35) ने सलमान खान को महापुरुष कहा है। ज्ञात हो कि सिद्धार्थ रियालिटी शो और अवॉर्ड कार्यक्रमों के लिए स्क्रिप्ट लिखते हैं। हालांकि इस बार वे खुद ही एक रियालिटी शो 'बिग बॉस 13' के प्रतिभागी हैं।

सिद्धार्थ ने आईएएनएस से कहा, "बीते कुछ सालों में मैंने सलमान सर और शाहरुख सर के सभी वर्ल्ड टूर के लिए स्क्रिप्ट लिखी है और 'झलक दिखला जा' 'इंडियन आइडल' 'सा रे गा मा पा चैलेंज' 'डांस इंडिया डांस' जैसे शो के कई सीजन की भी स्क्रिप्टिग की है। दरअसल बीते 15 सालों में मैंने सलमान सर और शाहरुख सर के साथ 6 वर्ल्ड टूर किए हैं। मैं अक्षय सर के साथ भी काम कर चुका हूं। मैंने अवॉर्ड कार्यक्रम के लिए भी स्क्रिप्ट लिखी है।"

इन सालों में उन पर सलमान का अच्छा प्रभाव पड़ा है। इस बारे में सिद्धार्थ ने कहा, "सलमान सर बहुत ही अच्छे इंसान हैं, वह महापुरुष हैं।" इसके साथ ही सिद्धार्थ ने आगे कहा, "उनका सेंस ऑफ ह्यूमर शानदार है और उन्हें मेरी टांग खींचना बहुत पसंद है। मुझे उम्मीद है कि 'बिगबॉस' का मेरा अनुभव अच्छा रहेगा। मैं वहां उनके पैर छूना चाहूंगा। हालांकि इसके साथ ही मुझे अन्य प्रतिभागियों का भी ख्याल रखना होगा कि कहीं वे ऐसा न समझ बैठे कि मुझे लेकर उनके साथ पक्षपात हो रहा है, क्योंकि मैं उन्हें व्यक्तिगत तौर पर जानता हूं।"

इसे भी पढ़ें :

बिग बॉस 13 : क्या सिद्धार्थ संग पैचअप के रास्ते पर हैं रश्मि..?

सलमान खान के साथ बिग बॉस 13 में राखी सावंत इस गाने पर लगाएंगी ठुमके

सिद्धार्थ ने खुलासा किया कि वे बचपन से ही सलमान को अपने आदर्श के तौर पर पूजते आ रहे हैं। उन्होंने कहा, "मैं बचपन से ही सलमान खान का प्रशंसक रहा हूं। मैं उनकी फिल्में देखते हुए बड़ा हुआ हूं। मेरे ख्याल से शायद तब मैं कक्षा छह या सात में था, जब उनकी फिल्म 'मैंने प्यार किया' रिलीज हुई थी। मेरे बचपन की सभी तस्वीरों में आपको मेरे पीछे सलमान खान की तस्वीरें दिख जाएंगी। मैं उन्हें अपने आदर्श के तौर पर पूजता आ रहा हूं और मैं आज भी उनका उतना ही सम्मान करता हूं।"

यह भी पढ़ें :

‘बिग बॉस 13’ के घर में जाने के लिए इस एक्ट्रेस ने छोड़ा अपना शो!

उन्होंने बिना हिचकिचाहट के बताया कि इस शो को हां बोलने के पीछे सलमान मुख्य वजह थे। उन्होंने कहा, "इस शो को हां कहने के पीछे प्रमुख वजहों में से एक सलमान सर भी थे। मैं उनसे 'बिगबॉस' के स्टेज पर मुखातिब होना चाहता था, और आखिरकार ऐसा करने का मुझे मौका मिल ही गया।"