नई दिल्ली : सिंगर और रैपर हार्ड कौर एक ब्रिटिश-इंडियन महिला हैं। हार्ड कौर आज अपना 40वां जन्मदिन मना रही हैं। उनका जन्म 29 जुलाई 1979 को यूपी के कानपुर में हुआ था। उनका असली नाम तरुण कौर ढिल्लन है। हार्ड कौर ने बॉलीवुड में बतौर एक्ट्रेस और लीड सिंगर काम किया है। हार्ड कौर खुद को पहली भारतीय महिला रैपर भी कहती हैं। आज आपको उनके जन्मदिन के मौके पर बताते है उसकी जिंदगी से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें।

- हार्ड कौर का बचपन संघर्षों में बीता है। बचपन में ही उनके पिता की मौत हो गई थी। उनकी मां एक छोटे से पार्लर पर काम करके घर का खर्चा चलाती थीं। पति की मौत के बाद उनकी मां अपने मायके होशियारपुर आ गईं।

- साल 1991 में उनकी मां ने एक ब्रिटिश नागरिक से शादी कर ली और इंग्लैंड शिफ्ट हो गईं। विदेश में ही हार्ड कौर ने अपनी पढ़ाई पूरी की। इस दौरान हिप-हॉप में उनकी दिलचस्पी बढ़ती गई।

- हार्ड कौर ने अपने करियर की शुरुआत फेमस सॉन्ग 'एक ग्लासी' से की थी। ये गाना सुपरहिट हुआ और उन्हें फिल्मों के ऑफर मिलने लगे।

- साल 2007 में श्रीराम राघवन ने उन्हें अपनी फिल्म फिल्म 'जॉनी गद्दार' में 'पैसा फेंक' गाना गया। ये गाना भी काफी पॉपुलर हुआ। और इसके बाद उन्होंने कई गाने गाए।

इसे भी पढ़ें :

बॉलीवुड सिंगर ने की विवादित पोस्ट, मोहन भागवत और योगी को लेकर कही ये बात

- साल 2007 में उनका पहला एलबम सुपरवुमेन भी आया था। साल 2008 में कौर को यूके म्यूजिक अवॉर्ड में बेस्ट फीमेल एक्ट अवॉर्ड से नवाजा गया था।

- हार्ड कौर का नाम कई विवादों से भी जुड़ा। एक कॉन्सर्ट के दौरान सिख समुदाय के गुरू गोविंद सिंह जी के लिए उन्होंने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। जिसके बाद उन्हें लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा था।

- हाल ही में उन्होंने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के खिलाफ विवादित टिप्पणी की, जिसके बाद उन पर केस दर्ज हो गया।