मुंबई। हाल ही में रिलीज़ हुई मल्टीस्टारर फिल्म कलंक दर्शको का दिल जीत पाने असफल साबित हुई है। यह फिल्म करण जौहर के प्रोडक्शन हाउस में बनी है। रिलीज़ से पहले इस फिल्म को लेकर काफी चर्चाएं थी कि कलंक इस साल की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर फिल्म साबित हो सकती है, लेकिन फिल्म के रिलीज होते ही केवल औसत दर्जे का प्रदर्शन कर पाई है। फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन में पीछे रहने की जो वजह निकलकर सामने आ रही है वो यह है कि कमजोर स्क्रिप्ट और माउथ पब्लिसिटी बताई जा रही है।

इस फिल्म का निर्देशन डायरेक्टर अभिषेक वर्मन ने किया है। अभिषेक ने इससे पहले जोधा अकबर, माई नेम इज खान, स्टूडेंट ऑफ दि इयर जैसी फिल्मों में असिस्टेंट डायरेक्टर की भूमिका निभाई है। इसके अलावा वे फिल्म टू स्टेट्स का निर्देशन कर चुके हैं। इस फिल्म के बाद ही अभिषेक ने कलंक जैसी बिग बजट वाली फिल्म की कमान ले ली लेकिन ये फिल्म दर्शकों की उम्मीदों पर खरी साबित नहीं हो पाई है।

बात अगर ट्रेंड को फॉलो करने की हो तो करण के प्रोडक्शन हाउस में बन रही फिल्म स्टूंडेट ऑफ द ईयर -2 का भी यही हश्र हो सकता है। हालांकि कलंक की तरह फिल्म स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 की जिम्मेदारी भी करण ने इस बार पुनीत मल्होत्रा को दी है। बता दे कि पुनीत भी इससे पहले कुछ खास असर नहीं दिखा पाए हैं। इससे पहले वो 'गोरी तेरे प्यार में' और 'आई हेट लवस्टोरीज़' जैसी औसत फिल्मों का ही निर्देशन किया हैं।

करण की इस फिल्म से तारा सुतारिया और अनन्या पांडे जैसी एक्ट्रेस अपने फिल्मी करियर की शुरूआत करने जा रहीं हैं। साल 2012 में स्टूडेंट ऑफ द ईयर के साथ ही वरुण धवन, आलिया भट्ट और सिद्धार्थ मल्होत्रा ने अपनी सफल पारी शुरु की थी लेकिन ये भी सच है कि उस दौर में सोशल मीडिया की मौजूदगी काफी कम थी। अब वो दौर नहीं है।

इसे भी पढ़ें: मल्टी स्टारर फिल्में, कमाई के लिहाज से कितनी सफल?

स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 के ट्रेलर को भी सोशल मीडिया काफी ट्रोल किया जा रहा है, क्योंकि फिल्म में कॉलेज लाइफ को काफी अनरियलिस्टिक दिखाया गया है और अगर फिल्म को लेकर माउथ पब्लिसिटी खराब रही तो कलंक की तरह ही स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 भी करण जौहर को बड़ा झटका दे सकती है।