नई दिल्ली : उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू ने दोनों तेलुगु राज्यों में प्रस्तावित परियोजनाओं के कार्यों की अधिकारियों से जानकारी ली और समीक्षा की। इस दौरान उपराष्ट्रपति ने शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और अधिकारियों को सुझाव दिया कि आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में प्रस्तावित उद्योग और इंडस्ट्रियल कॉरिडोर निर्माण में तेजी पूरा किया जाये।

इस दौरान उपराष्ट्रपति ने विशाखापट्टणम-चित्तूर के बीच उद्योग उद्योग कॉरिडोर, काकीनाड़ा में स्थापित किये जाने वाले इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पैकेजिंग (आईआईपी) और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेन ट्रेड (आईआईएफटी) के बारे में अधिकारियों के साथ चर्चा की। इस अवसर पर वैंकया ने गुंटूर स्थित एनजी रंगा कृषि विश्वविद्यालय के साथ मिलकर गुंटूर जिले में स्पाइस पार्क स्थापित किये जाने के लिए आवश्यक कदम उठाने का अधिकारियों को सुझाव दिया।

इस अवसर पर तेलंगाना के हैदराबाद-वरंगल उद्योग कॉरिडोर और हैदराबाद-नागपुर कॉरिडोर उद्योग को लेकर भी चर्चा की गआ। साथ ही उपराष्ट्रपति ने रंगारेड्डी जिले के मुच्चर्ला के पास प्रस्तावित फार्मासिटी मुद्दे पर भी अधिकारियों से जानकारी ली। इस दौरान वैंकया ने इस परियोजना के कार्य को तुरंत पूरा करने का सुझाव दिया। इसके अलावा उपराष्ट्रपति ने आंध्र प्रदेश विभाजन कानून में उल्लेखित परियोजनाओं को निर्धारित समय में पूरा करने का अधिकारियों को निर्देश दिया।

वैंकया ने मंत्री पीयूष गोयल को सुझाव दिया कि दोनों तेलुगु राज्य सरकारों के साथ चर्चा करके उत्पन्न हो रही समस्याओं का तुरंत निवारण किया जाये। इसके उत्तर में मंत्री गोयल और दोनों विभागों के सचिवों ने उपराष्ट्रपति को बताया कि शीघ्र ही तेलुगु राज्य सरकारों से इस विषय पर चर्चा करके परियोजनाओं को पूरा किया जाएगा।