विशाखापटनम : वेलेंटाइन डे से ठीक दो दिन पहले एक प्रेमी जोड़े की आत्महत्या का दुखद मामला विशाखापटनम जिले में सामने आया है। विशाखापटनम जिले के गोपालपटनम के कंचरपालेम थाना पुलिस के मुताबिक यलमंचिली के रामनगर की शिरीशा (20) और स्थानीय वेंकटेश (22) एक दूसरे से प्यार करते थे।

युवती के माता-पिता को जब इस बात का पता चला तो उन्होंने उससे बड़ी बहन की शादी के बाद उसकी भी शादी करने की बात कही। उसके बाद शिरीशा का परिवार गोपालपटनम आ गया और स्थानीय पुलिस स्टेशन के पास एक रेस्टोरेंट चलातेहुए अपना गुजारा करने लगा। गोपालपटनम आने के बाद भी शिरीशा अकसर फोन पर वेंकटेश से बातें करती थीं।

इसी क्रम में मंगलवार की शाम शिरीशा जब रेस्टोरेंट काउंटर पर बैठी थी तभी वेंकटेश का फोन आया। कुछ देर तक बातचीत के बाद दोनों वादविवाद करने लगे। उसके कुछ ही देर बाद शिरीशा ने वेंकटेश को मैसेज कर बताया कि वह आत्महत्या करने जा रही है। इसके तुरंत बाद वह रेस्टोरेंट की छत पर बने अपने कमरे में चली गई।

वेंकटेश ने तुरंत शिरीशा का मैसेज उसकी बहन को भेजा, तो वह दौड़कर रेस्टोरेंट की छत पर पहुंची, लेकिन तब तक शिरीशा फांसी लगा चुकी थी। तुरंत रेस्टोरेंट के कर्मचारियों की मदद से उसे पहले स्थानीय एक निजी अस्पताल ले जाया गया और वहां से केजीएच अस्पताल ले जाया गया, जहां के डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

शिरीशा और वेंकटेश 
शिरीशा और वेंकटेश 

लाश को पोस्टमार्टम के लिए मुर्दाघर भेज दिया। घटना की सूचना मिलने पर गोपालपटनम पुलिस ने घटनास्थल का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। युवती की मां की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया।

दूसरी तरफ, प्रेमिका के अब दुनिया में नहीं रहने की खबर वेंकटेश को मिली तो वह सन रह गया। कंचरपालेम थानांतर्गत बर्मा कैंप के निकट रह रहे वेंकटेश ने बुधवार को पास के एक पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। स्थानीय लोगों की सूचना पर कंचरपालेम पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया। शिरीशा के परिवार ने बताया कि अगले कुछ ही दिनों में उनकी शादी करने वाले थे, लेकिन दोनों ने ऐसा क्यों किया समझ नहीं पा रहे हैं।