रंपचोड़वरम : पूर्वी गोदावरी जिले के देवीपटनम मंडल के कल्लूर के पास गोदावरी नदी में घटी नाव दुर्घटना के सिलसिले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने नाव के मालिक कोडिगुड्ला वेंकटरमणा को शुक्रवार को मीडिया के सामने पेश किया।

रंपचोड़वरम के एएसपी वकुल जिंदल के मुताबिक इस मामले में नाव के मालिक सहित दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है। नाव के मालिकों में मुख्य रूप से आरोपी ए1 रहे कोडिगुड्ला वेंकटरमणा के साथ ए2 के रूप में एल्ला प्रभावती और ए3 के रूप में अच्युतमणि को गिरफ्तार किया गया है। अभी इस मामले में किसी और का हाथ है या नहीं, इसकी जांच की जा रही है।

गोदावरी नदी में प्रवाह की तिव्रता का नाव चालक का सही अंदाजा नहीं लगा पाना, भंवर से बचकर सुरक्षित मार्ग में नाव को ले जाने के मामले में नाव चालक को पर्याप्त अनुभव नहीं होने की वजह से यह घटना घटी है।

नदी से लाश को निकालते हुए राहतकर्मी 
नदी से लाश को निकालते हुए राहतकर्मी 

नदी के किनारे से नाव को गुजरना था, लेकिन उसे नदी के बीच ले जाया गया। उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस की कोई गलती नहीं है क्योंकि जब पुलिस ने जांच करने गई थी तब नाव पर सवार सभी लाइफ जैकेट पहने हुए थे। परंतु पुलिस के चले जाने के बाद नाव के कर्मचारियों ने यात्रियों से कहा था कि सभी लाइफ जैकेट खोल सकते हैं।

इसे भी पढ़ें :

गोदावरी नाव हादसा : अब तक 8 की मौत, 71 लोग थे सवार, घटना से पहले का देखिए वीडियो

गोदावरी नाव हादसा : NDRF ने बोट का पता लगाया, बाढ़ का खतरा बढ़ने से राहत कार्य बाधित

नाव पर कुल 64 बड़े और तीन बच्चे सवार थे। नाव के 8 कर्मचारियों को मिलाकर नाव पर कुल 75 लोग सवार थे। उन्होंने बताया कि एक्सपर्ट टीम नाव को नदी से बाहर निकालने की कोशिश कर रही है। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 34 शव ढूंढ निकाले जा चुके हैं।