महिला की बाथरूम में लाज बचाने की नाकाम कोशिश, इस खौफनाक कदम से गई जान

मृतक महिला की पहचान कदिरूनिस्सा के रूप में हुई है। - Sakshi Samachar

चित्तूर : आंध्रप्रदेश के चित्तूर जिले के मदनापल्ले में एक महिला को अपनी ही लाज बचाने की कोशिश उसे भारी पड़ गई। यही नहीं इस कोशिश की वजह से उसकी जान तक चली गई। दरअसल महिला अपने अनचाहे गर्भ से परेशान थी। इसी वजह से उसने खुद से ही अबॉर्शन करने की नाकाम कोशिश की। डॉक्टरों की मानें तो महिला की मौत की वजह उसके शरीर से अधिक खून बह जाने से हुई है।

क्या है मामला

बताया जा रहा है कि पहले से ही दो बच्चों की मां थी। दोनों ही बच्चे शादी करने के लायक हो चुके हैं। इस उम्र में प्रेग्नेंट होने की वजह से वह डर गई और अपनी प्रेग्नेंसी की बात को पति से छिपाती रही। जैसे - जैसे समय बीत रहा था वैसे -वैसे उसकी प्रेग्नेंसी बढ़ती जा रही थी। महिला इस वजह से काफी परेशान हो चुकी थी। वो किसी भी तरह बच्चे को जन्म नहीं देना चाहती थी।

बाथरूम में की अबॉर्शन की नाकाम कोशिश

इसके लिए उसने एक खतरनाक तरीका अपनाया और खुद से ही अपने अबॉर्शन करने की ठान ली। इसके लिए उसने बिना किसी मेडिकल ट्रीटमेंट के ही बाथरुम में पहुंचकर अबॉर्शन करने की कोशिश की।हलांकि वह अपनी इस कोशिश में नाकाम रही जिस वजह से उसकी बॉडी से काफी ज्यादा खून बहना शुरू हो गया और वह बेहोश हो गई।

महिला ने इलाज के दौरान तोड़ा दम

परिवार वालों के जब इस बाबत जानकारी मिली तो परिवार के सदस्यों ने उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया। डॉक्टरों ने महिला को बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन वह उसे नहीं बचा सके और इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई। हलांकि बच्चे को अभी डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है।

मृतक महिला की पहचान कदिरूनिस्सा के रूप में हुई है। जबकि उसका पति का नाम इनायतुल्लाह है। वह टेलरिंग का काम करके अपने परिवार का भरण- पोषण करता है।

Advertisement
Back to Top