अमरावती : आंध्र प्रदेश सरकार ने राज्य विकास एवं कल्याण के मद्देनजर महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। निर्णय के अंतर्गत सरकार ने सामाजिक कल्याण पर जोर दिया है। साथ ही सामाजिक और क्षेत्रीय समानता पर भी गौर किया है। राज्य में क्षेत्रीय स्तर पर विकास एवं कल्याण को लेकर प्राथमिकता दी जा रही है।

क्षेत्रीय स्तर पर लोगों को मौलिक सुविधाएं उपलब्ध कराने पर ध्यान दिया जा रहा है। राज्य के सभी क्षेत्रों में सभी जाति-समुदाय के लोगों को विकास और कल्याण के मद्देनजर समान अवसर दिया जा रहा है।

आंध्र प्रदेश सरकार निर्णय के अंतर्गत विजयनगरम जिला केंद्र (श्रीकाकुलम, विजयनगरम और विशाखापटनम) में उत्तरांध्रा क्षेत्रीय योजना बोर्ड बनाने का प्रस्ताव रखा गया। काकीनाड़ा जिला केंद्र में पूर्व गोदावरी, पश्चिम गोदावरी और कृष्णा जिले को मिलाकर क्षेत्रीय बोर्ड बनाने के साथ गुंटूर जिला केंद्र के अंतर्गत नेल्लोर, प्रकाशम और गुंटूर को मिलाकर क्षेत्रीय योजना बोर्ड बनाया जाएगा। इसके अलावा कड़पा जिला केंद्र के तहत चित्तूर, कर्नूल, अनंतपुर और वाईएसआर कड़पा जिलों के लिए क्षेत्रीय योजना बोर्ड होगा।

इसे भी पढ़े :

विजयवाड़ा में गरीबों के लिए बनेंगे एक लाख मकान , इस तरह शुरू हो रहा काम

बोर्ड के चैयरमैन पद पर केबीनेट स्तर पर का व्यक्ति नियु्क्त किया जाएगा। इस चेयरमैन का कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। कृषि (फूड प्रोसेसिंग- एग्री मार्केटिंग), जल निस्सारण, आर्थिक विकास और मौलिक सुविधाएं, एकीकृत विकास एवं कल्याण क्षेत्र के चार विशेषज्ञ सदस्य के पद पर नियुक्त किये जाएंगे।