अमरावती : आंध्र प्रदेश सरकार ने माओवादी की असामाजिक गतिविधियों पर रोक लगाने के उद्देश्य से पार्टियों पर लगा प्रतिबंध एक साल के लिए बढ़ाया गया। इस संदर्भ में प्रदेश सरकार ने आदेश जारी किया।

जन सुरक्षा कानून 1992 के तहत 2019 में 17 अगस्त से एक वर्ष के लिए माओवादी पार्टी की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाया गया। माओवादी पार्टियों से अनुबंधित संस्थाएं रैतु कुली संघम, रैडिकल स्टुडेंट्स यूनियन, विप्लवा कार्मिक समाख्या, सिंगरेनी कार्मिक समाख्या, ऑल इंडिया रिवोल्युशनरी स्टुडेंट्स फेडरेशन, रैडिकल यूथ लीग, रिवोल्युशनरी डेमोक्रासी फ्रंट आदि पर प्रतिबंध घोषित किया गया।

इसे भी पढ़ें :

तेलंगाना में ड्रोन, रिमोट संचालित अत्यधिक हल्के विमान, पैराग्लाइडर पर छह महीने का प्रतिबंध

गुंडाला मुठभेड़ : HC ने दिया माओवादी नेता लिंगन्ना के शव का रि-पोस्टमार्टम का आदेश

आंध्र प्रदेश सरकार वर्ष 1991 से इन संस्थाओं पर लगे प्रतिबंध की अवधि बढ़ा रही है। इस संदर्भ प्रदेश सरकार आदेश जारी करते आ रही है।