अमरावती : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी उद्योगों के विकास पर विशेष ध्यान दे रहे हैं। सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों का विकास करने के उद्देश्य से सीएम जगन ने 'YSR नवोदयम' नामक एक नई योजना शुरू कर रहे हैं। योजना का मुख्य उद्देश्य सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों को आर्थिक स्थिति से उभारना है।

आंध्र प्रदेश में सरकार ने लगभग 86 हजार उद्योंगों की पहचान की गई है। कैबिनेट ने सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों के लिये 4 हजार करोड़ रुपये ऋण रिस्ट्रक्चर करने को मंजूरी दी है। कैबिनेट के इस निर्णय पर उद्योग समूहों के मालिक हर्ष व्यक्त कर रहे हैं। मुख्यमंत्री द्वारा शुरू हो रही 'YSR नवोदयम' योजना लाभ विशेष कर लघु उद्योगों को होगा। उनके खाते बंद नहीं होंगे। सरकार के निर्णय के चलते मध्यम उद्योगों ऋण और शीघ्र निवेश का अवसर दिया जायेगा। इस योजना का उपयोग करने के लिए नौ महिने की अवधि में कार्रवाई होगी।

इसे भी पढ़ें :

CM जगन मोहन ने कहा - तेलुगु राज्यों के इतिहास में पहली बार अनोखी प्रणाली

आपको बता दें कि आंध्र प्रदेश में सूक्ष्म उद्योग - 10,200, लघु उद्योग - 2,100, मध्यम स्केल उद्योग- 450, भारी उद्योग- 133, पांच वर्ष में बंद होने वाले उद्योग- 25 प्रतिशत, वित्तीय संकट का सामना कर रहे उद्योग- 45 प्रतिशत और SC तथा ST के लिए MSME उद्योग- 10 प्रतिशत हैं।