आंध्र ज्योति पर भी खतरा, अवैध निर्माण के लिए नोटिस जारी 

गुडा द्वारा आंध्रज्योति को जारी किया गया नोटिस - Sakshi Samachar

विजयवाड़ा : आंध्र ज्योति की पूर्व गोदावरी में नियमों के विरुद्ध यानि अवैध तरीके से बनी दो मंजिला प्रिंटिंग कार्यालय की बिल्डिंग को गोदावरी अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी (गुडा) के अधिकारियों ने नोटिस जारी किया है।

नगर निगम की अनुमति के बगैर पूर्व गोदावरी जिले के राजानगरम मंडल के पालचर्ला गांव की पंचायती परिधि में अवैध रूप से बनाया गया यह भवन गिराया जाए, नहीं तो इस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी, नोटिस में यह स्पष्टरूप से लिखा है।

नोटिस मिलने के सात दिनों के भीतर इसका जवाब देने के लिए आंध्रज्योति के एमडी वेमूरी राधाकृष्णा की बेटी अनुषा को आर्डर जारी किये गए हैं।

विस्तार में जाने पर पता चलता है कि ...टीडीपी सरकार के शासन में पालचर्ला गांव की पंचायती परिधि की सर्वे नंबर 208/5 ए में प्रिंटिंग प्रेस भवन का निर्माण 1.75 एकड़ भूमि में आंध्रज्योति के मालिकों द्वारा करवाया गया।

इसे भी पढ़ें :

आंध्र प्रदेश परिवहन निगम में शुरू हुई तबादले की प्रक्रिया

इस साल जनवरी में यहां काम भी शुरू कर दिया गया। वर्तमान में यहीं से अखबार का कामकाज भी चल रहा है। इसके निर्माण के लिए जिला टाउन कंट्री प्लानिंग (डीटीसीपी) अधिकारियों से या फिर गोदावरी अर्बन डेवलेपमेंट अथॉरिटी (गुडा) से किसी तरह की कोई अनुमति नहीं ली गई।

सरकार द्वारा निर्देशित फीस का भुगतान भी नहीं किया गया। इससे सरकारी राजस्व को गंभीर नुकसान पहुंचा है। निर्माण में नियमों का पालन भी नहीं किया गया।

गुडा द्वारा आंध्रज्योति को जारी किया गया नोटिस

अवैध निर्माण को लेकर नई सरकार काफी गंभीर है इसलिए उसने आंध्रज्योति को नोटिस भेज दिया है।

पर आंध्रज्योति की ओर से अपने भवन को अनुमति देने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। पर गुडा के अधिकारी उनसे कह रहे हैं कि वे भवन नियमितीकरण योजना (बीआरएस) के तहत दरखास्त करे पर आंध्रज्योति के मालिक उनकी यह बात मान नहीं रहे।

बीआरएस के तहत आंध्रज्योति को 70 लाख भरने पड़ सकते हैं। इसी सिलसिले में आंध्रज्योति के एमडी की बेटी अनुषा को गुडा के अधिकारियों ने नोटिस जारी किया है। नियम के विरुद्ध बने भवन को गिराया जाए, नहीं तो इस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement
Back to Top