CRDA ने चंद्रबाबू के लिंगमनेनी गेस्ट हाउस पर चिपकाया नोटिस, 7 दिन के अंदर मांगा जवाब

नोटिस चिपकाते अधिकारी - Sakshi Samachar

विजयवाड़ा : राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण (सीआरडीए) ने कृष्णा नदी के करकट्टा तट पर अवैध रूप से निर्मित किये गये मकानों को नोटिस देने के प्रक्रिया आरंभ की है। इसी के अंतर्गत आंध्र प्रदेश में विपक्षी दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री नारा चंद्राबाबू नायडू के लिंगमनेनी गेस्ट हाउस पर नोटिस चिपकाया गया है।

इससे पहले अधिकारियों ने लिंगमनेनी गेस्ट हाउस के निर्माण की हर पहलुओं पर गहन जांच पड़ताल की। अधिकारियों ने अपनी जांच में पाया कि चंद्रबाबू का लिंगमनेनी गेस्ट हाउस अवैध निर्माण है। इसके बाद ही नोटिस जारी किया गया है।

अधिकारियों ने निवास के बाहर दीवार पर लिंगमनेनी रमेश के नाम का नोटिस चिपकाया है। इसके अलावा चंद्रबाबू के निवास के साथ-साथ 20 भवनों को भी नोटिस जारी किया है।

यह भी पढ़ें :

आधी रात से ‘प्रजा वेदिका’ को गिराने की कवायद हुई शुरू, चंद्रबाबू की बढ़ी मुश्किलें, देखिए वीडियो

यह नोटिस सीआरडीए के सेक्शन 115 (1) और 115 (2) के अंतर्गत जारी किया गया है। जारी नोटिस में कहा गया है कि बिना अनुमति के पहली मंजलि, कमरें और भवनों का निर्माण किया है।

नोटिस में सात दिन के अंदर जवाब देने की बात कही गई है। यदि जवाब ठीक न रहा तो कानून के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने हाल ही में संपन्न जिलाधीशों की बैठक में अवैध निर्माण को लेकर कड़े कदम उठाने के आदेश दिये हैं। इसी आदेश के अंतर्गत प्रजा वेदिका को गिराया गया है।

Advertisement
Back to Top