सड़कों से अतिक्रमण हटाने पर टीडीपी नेताओं का हंगामा, घंटों जाम रहा ट्रैफिक

घटनास्थ पर तैनात पुलिस और अवैध भवनों को गिराने का दृश्य - Sakshi Samachar

पश्चिमी गोदावरी : अवैध निर्माणों को तोड़ने के मामले में किसी तरह की दया नहीं दिखाने के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी के आदेश के बाद अधिकारी मैदान में उतर चुके हैं।

ताड़ेपल्लीगुड़ेम में धर्मस्व विभाग की जमीनों के अतिक्रमण के मामले में भूमाफियाओं पर गाज गिराई। स्थानीय 17वां वार्ड नरसिम्हा रावपेट में बालवेंकटेश्वर स्वामी मंदिर से जुड़ी जमीनों पर टीडीपी के प्रदेश सचिव, पूर्व वाइस चेयरमैन गोर्रेला श्रीधर ने कब्ज किया था।

मुख्यमंत्री के आदेश के बाद धर्मस्व विभाग और पुलिस अधिकारी जेसीबी की मदद से वहां की सड़कों पर बने अवैध निर्माणों को तोड़ने का काम शुरू किया। इसी बात को लेकर अधिकारियों व अतिक्रमणकारियों के बीच गरमागरम बहस हुई। स्थिति बेकाबू होते देख पुलिस ने गोर्रेला श्रीधर को थाने भेज दिया।

अतिक्रमणकारियों का कहना था कि जिले में कई मंदिरों की जमीनों पर कब्जा हुआ है, लेकिन यहां बदले की भावना से केवल उन्हीं के निर्माण तोड़े जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें :

चंद्रबाबू नायडू और नारा लोकेश की सुरक्षा घटी, कई और सुविधाओं से हुए महरूम

दूसरी तरफ, अतिक्रमणकारियों के समर्थन में टीडीपी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस आईलैंड के पास रास्ता रोको कार्यक्रम आयोजित किया, जिससे वहां घंटो यातायात प्रभावित हुआ। आपको बता दें कि सीएम जगन ने अवैध निर्माणों को तोड़ने का काम प्रजा वेदिका से शुरू करने का आदेश दिया था।

Advertisement
Back to Top