अमरावती : आंध्र प्रदेश की गृहमंत्री मेकतोटी सुचरिता ने कहा कि राज्य में महिलाओं के साथ अत्याचार को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने आज आंध्र प्रदेश गृहमंत्री के रूप में सचिवालय के ब्लॉक -2 स्थित चैंबर में अपना पदभार संभाला और विशेष पूजा की।

इस मौके पर उन्होंने वाईएस जगन मोहन रेड्डी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने एक दलित महिला को गृहमंत्री की जिम्मेदारी सौंपी है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ अत्याचार करने वालों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी जो बाकी लोगों के लिए सबक बन जाए। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था बनाए रखते हुए लोगों में सुरक्षा का भरोसा जगाएंगे।

उन्होंने स्पष्ट कहा कि रैगिंग और छेड़खानी पर स्थाई रोक लगाने और महिलाएं निर्भयता से थाने पहुंच कर घटना की शिकायत कर सके, ऐसी व्यवस्था कायम की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए विशेष ट्रोल फ्री नंबर की व्यवस्था भी की जाएगी।

इसे भी पढ़ें :

‘नवरत्नालु’ से चमकेगी आंध्र की किस्मत, YS जगन सरकार वादों पर कर रही अमलवारी

पुलिसकर्मियों के लिए साप्ताहिक अवकाश और 4 बटालियनों के गठन का आश्वासन देते हुए गृहमंत्री ने कहा कि महिला बटालियन और गिरिजन बटालियनों का गठन होगा। बुनियादी सुविधाएं नहीं होने से महिला कांस्टेबलों के परेशान होने का हवाला देते हुए मंत्री ने कहा कि अब से महिला कांस्टेबलों के कल्याण को महत्व दिया जाएगा।