हैदराबाद : केंद्र में गैर भाजपा सरकार बनाने के इरादे से देश की राजधानी नई दिल्ली में हलचल मचा चुके टीडीपी प्रमुख नारा चंद्रबाबू नायडू को उनके गृहराज्य में करारी हार का सामना करना पड़ रहा है।

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव में वाईएसआरसीपी की आंधी में उड़ी टीडीपी। यही नहीं, लोकसभा चुनाव में उसका खाता खुलना भी मुश्किल है। राज्य की 25 लोकसभा सीटों में अब तक एक पर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी जीत दर्ज कर चुकी है और बाकी 24 जगहों पर बढ़त बनाई हुई है।

मोदी को केंद्र सरकार से उखाड़ फेंकने की कसम खा चुके चंद्रबाबू नायडू को संसद में प्रतिनिधित्व मिलने की गुंजाइश नहीं है। गैर भाजपा राजनीतिक दलों को एक मंच पर लाने के लिए कई राजनीतिक दलों के घरों के चक्कर लगा चुके चंद्रबाबू नायडू को उन्हीं के राज्य में करारा झटका लगा है।

ये भी पढ़ें: AP Election Results Live Update : पुलिवेंदुला से वाईएस जगन 70 हजार वोटों से जीते

इससे सोशल मीडिया पर नेटिजन चंद्रबाबू नायडू की खिल्ली उड़ा रहे हैं। लिख रहे हैं कि चंद्रबाबू नायडू का सफर मायावती के साथ मुलाकात से शुरू होकर सोनिया गांधी, एच.डी. देवेगौड़ा, ममता बनर्जी, अरविंद केजरीवाल के घर के रास्ते आखिर में आज शाम राज्यपाल के साथ मुलाकात में इस्तीफा देने के साथ ही खत्म होने जा रहा है। महागठबंधन की हार को मीम्स को ट्रेंड कर रहे हैं।