ओंगोल : आंध्र प्रदेश में गुप्त निधि की तलाश में गये केनरा बैंक के कर्मचारी की मौत हो गई। जबकि एक व्यक्ति सुरक्षित लौट आया और एक अन्य की तलाश जारी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, गुंटूर जिले के कोल्लिपहरकु निवासी कृष्णा नायक, हनुमंत नायक और हैदराबाद के एक केनरा बैंक में काम करने वाले कट्टा शिवकुमार को आसानी से पैसे कमाने का जुनून सवार हो गया। इसी क्रम में किसी ने वेलिगोंडा जंगल में गुप्त निधि होने की बात बताई।

इसी क्रम में तीनों गत रविवार पानी और कुछ खाने की चीजें लेकर जंगल में चले गये। रविवार रात को तीनों जंगल में एक साथ रहे। अगले दिन तीनों पहाड़ पर से नीचे उतरे। मगर इनमें से कृष्णा नायक ही सोमवार को कर्नल-ओंगोल सड़क पर आ गया। सड़क के पास में मंदिर में जाकर प्यास बुझा ली। इसके बाद गांव पहुंचा और घटना की जानकारी दी। परिवार वालों ने इस घटना की थाने में शिकायत दर्ज की।

इसे भी पढ़ें :

रवि प्रकाश और शिवाजी की साजिश का पर्दाफाश, बीती तारीख में खरीदे थे नये शेयर

‘रवि प्रकाश व शिवाजी पर तंज, कहा- घबराइए मत, जालसाजी कैसे की जाती है, यही पूछेंगे’

दर्ज शिकायत के आधार 15 सदस्यों का पुलिस दल और वन अधिकारी नागराजू के नेतृत्व में पूरे जंगल में छानबीन की। छानबीन के दौरान उन्हें शिव कुमार का शव दिखाई दिया।

पुलिस ने संदेह व्यक्त किया कि शिव कुमार की पीने का पानी नहीं मिलने से मौत हो गई। जबकि एक अन्य लापता व्यक्ति की पुलिस जंगल में तलाश कर रही है।