तिरुमला : चेन्नई स्थित पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से तिरुपति की ओर लेकर आते समय पकड़े गये 1,381 किलोग्राम सोने को लेकर उठे विवाद से तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) से कोई संबंध नहीं है। टीटीडी के कार्यकारी अधिकारी अनिल कुमार सिंघाल ने मीडिया को यह जानकारी दी।

सिंघाल के आगे बताया कि साल 2000 से आंध्र प्रदेश सरकार के आदेश और रिजर्व बैंक के निर्देशानुसार टीटीडी का सोना राष्ट्रीय बैंकों में डिपाडिट किया जा रहा है। इसी क्रम में 18 अप्रैल 2016 को पंजाब नेशनल बैंक में टीटीडी की 1,311 किलोग्राम सोने को पीएनबी में डिपाजिट किया गया है। इसी के तहत इस माह की 18 अप्रैल को डिपाजिट की समयावधि समाप्त हो गई। पीएनबी को हमें 1,381 किलोग्राम सोने लौटाना चाहिए था। मगर चुनाव प्रक्रिया के तहत तलिमलनाडु पुलिस ने वाहनों की जांच के दौरान सोने को बरामद किया। जांच पड़ताल के बाद अधिकारियों ने सोने को छोड़ दिया है।

इसी के चलते दो दिन देर से यानी 20 अप्रैल रात को सोना तिरुपति के खजाना में पहुंचा है। इस दौरान सभी प्रकार की जांच पड़ताल के बाद ही 1,381 किलोग्राम सोने को लेने की प्रक्रिया पूरी की है। मगर बैंक डिपाजिट किये गये सोना और ब्याज के साथ उन्हें लौटाने तक टीडीपी को सौंपने तक की जिम्मेदारी पीएनबी की है। ऐसे हालत में सोने स्थानांतरित किये जाने के मामला और इसके बाद उठे विवाद विवाद का टीटीडी से को संबंध नहीं है। आरबीआई के निर्शेशानुसार ही सोने को डिपाजिट को डिपाजिट किया गया है।

यह भी पढ़ें :

मुख्य सचिव ने दिए टीटीडी से जुड़े सोने की जांच करने के आदेश

श्री भगवान बालाजी का 1400 किलोग्राम सोना गबन करने की थी साजिश: भारती

दूसरी ओर तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) के 1,381 किलो सोने के विवाद को लेकर आंध्र प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव (सीएस) एल.वी. सुब्रह्मण्यम ने 21 अप्रैल को जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने स्पेशल चीफ सेक्रेटरी मनमोहन सिंह को जांच अधिकारी नियुक्त कर 23 अप्रैल के भीतर जांच रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए हैं।

उन्होंने मनमोहन सिंह को तत्काल तिरुमला पहुंच कर मामले की जांच करने के आदेश दिये है। टीटीडी का सोना भेजने के मामले में सुरक्षाखामियों को लेकर आ रही खबरों की जांच करने और टीडीडी और विजिलेंस अधिकारियों के कामकाज की भी जांच करने के निर्देश दिए गए हैं।

गौरतलब है कि चेन्नई के निकट तिरुवल्तूर जिले के वेपमबट्टू टोलप्लाजा के निकट तस्करी किए जा रहे सोने को फ्लाइंग स्क्वाड के अधिकारियों ने बरामद किया था। पुलिस दो वाहनों में सोना और कुछ नकदी ले जा रहे लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की थी। सोने को लेकर सही जवाब नहीं मिलने पर पुलिस ने दोनों वाहनों के साथ सोना जब्त किया था।