तिरुपति : अभिनेता और श्री विद्यानिकेतन शिक्षण संस्थाओं के प्रमुख मंचु मोहन बाबू ने मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायुडू की ओर इशारा करते हुए कहा कि काल हमेशा एक जैसा नहीं होता है। मोहन बाबू ने शुक्रवार को एपी सरकार की ओर से आने वाले लंबित बकाया फीस रीइंबर्समेंट राशि की मांग के समर्थन में शहर में धरना कार्यक्रम किया।

इस अवसर पर मोहन बाबू ने कहा, "चंद्रबाबू को मैं पसंद करता हूं। मगर उनके नाटक मुझे हरगिज पसंद नहीं है। फिल्मों में अभिनय करे तो पैसे मिलते हैं। चंद्रबाबू नायुडू बाहर अच्छा अभिनय करते हैं। जनता भोली है। इसीलिए उन पर भरोसा करके वोट डालकर मुख्यमंत्री बनाया है। आखिर चंद्रबाबू ने क्या किया? सभी के साथ धोखा किया। बकाया फीस फीस रीइंबर्समेंट का भुगतान ही नहीं किया। ऐसा व्यक्ति अब युवकों को नौकरियां कैसे देंगे?"

अभिनेता ने आगे कहा, दिवंगत मुख्यमंत्री डॉ वाईएस राजशेखर रेड्डी ने फीस रीइंबर्समेंट और आरोग्यश्री योजनाओं की अमलवारी की थी। दिवंगत मुख्यमंत्री एनटीआर ने दो रुपये किलोग्राम चावल योजना को आरंभ किया था। अच्छे काम करने वाले मुख्यमंत्री को जनता भी पसंद करते हैं। मगर चंद्रबाबू आप उनमें से नहीं है। एक बार कह दो कि वे मुख्यमंत्री आरंभ करने वाले योजनाओं को मैं पैसा क्यों दूंं। तब मैं आपको मानता हूं। आपने आप पर भरोसा करके वोट डालने वालों को धोखा दिया है।

धरना देते हुए मोहन बाबू और अन्य
धरना देते हुए मोहन बाबू और अन्य

यह भी पढ़ें :

वाईएस जगन मोहन रेड्डी आज करेंगे चुनावी घोषणापत्र की समीक्षा, कल भरेंगे नामांकन पत्र

YS जगन मोहन रेड्डी पुलिवेंदुला निर्वाचन क्षेत्र में आज भरेंगे नामांकन, इससे पहले करेंगे यह काम

मोहन बाबू ने कहा, " आपने एनटीआर द्वारा स्थापित टीडीपी में उनकी सदस्यता ही समाप्त कर दी। सच में देखा जाए तो टीडीपी आपकी नहीं है। आपने हमारे भाई एनटीआर के पास से जबरन छीन ली है। एनटीआर के प्रति जिन नेताओं में प्यार हैं। वही नेता टीडीपी में है। मेरी पार्टी मेरी पार्टी कैसे कहता है चंद्रबाबू। वह तो एनटीआर की पार्टी है। ठीक है यह आपकी बदकिस्मती है। उससे मेरा कोई संबंध नहीं है। प्रदेश की जनता ही अब आपको सबक सिखाएंगी। दिन-रात और पौर्णिमा-अमावस्या कैसे आते जाते रहते है। उसी तरह चंद्रबाबू याद रख लो काल हमेशा बदलता रहता है।"