अमरावती : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायुडू एक बार फिर 'साक्षी' मीडिया पर आग बबूला हो गये। चंद्रबाबू ने गुरुवार को आईटी ग्रिड्स घोटाले को लेकर अमरावती में मीडिया को संबोधित किया।

मीडिया से बातचीत के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने साक्षी के पत्रकार के सवाल का कोई जवाब नहीं दिया और कहा कि आपको जवाब देने की जरूरत नहीं है। साक्षी के संवाददाता के दूसरी बार सवाल करने पर चंद्रबाबू का गुस्सा फूटा और कहा कि एक बार कही गई बात क्या समझ में नहीं आता ? उन्होंने और आगे कहा कि यह सरकारी संवाददाता सम्मेलन नहीं है, यह पार्टी केवल पार्टी का संवाददाता सम्मेलन है।

इसके जवाब में साक्षी संवाददाता ने कहा कि आप बुलाये हैं, इसीलिए हम आये हैं। इसके जवाब चंद्रबाबू ने कहा कि अब से आपको सरकारी कार्यक्रमों में भी नहीं बुलाऊंगा। दूसरी ओर, मंत्री काल्वा श्रीनिवास और कला वेंकट राव ने साक्षी मीडिया पर आक्रोश व्यक्त करने के साथ साक्षी के संवाददाता को बैठने के लिए इशारा किया। आपको बता दें कि इससे पहले भी चंद्रबाबू कई बार साक्षी मीडिया को लेकर अनप-शनप कह चुके हैं।

इसे भी पढ़ें :

अपनी गलती दूसरे पर इस तरह थोपते हैं चंद्रबाबू नायडू : भाजपा

गलती की है इसीलिए फरार है आईटी ग्रिड्स के सीईओ : रामचंद्र रेड्डी

चंद्रबाबू नायडू ने डाटा चोरी मुद्दे पर केंद्र और तेलंगान सरकार पर हमला किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति पर केंद्र और टीआरएस सरकार हमला करने की कोशिश कर रही है।

चंद्रबाबू ने कहा, "हमारी सूचना को चोरी करके हम पर मामले दर्ज किये जा रहे हैं। हमारे राज्य में डाटा संग्रहित करें तो आपको क्या लेना-देना है? लोगों का व्यक्तिगत सूचना लीक होने के नाम पर मुझे मानसिक रूप से परेशान किया जा रहा है। इस मामले से केसीआर का क्या संबंध है? आप सत्ता में हैं इसीलिए आपको अहंकार है। हमारी सूचना चोरी करके उल्टा हमको ही डरा रहे हैं।”

क्या रिटर्न गिफ्ट यही है?

चंद्रबाबू ने कहा, “क्या केसीआर ने यही रिटर्न गिफ्ट दिया है? डोंट माइंड.. केंद्र के हमले से हम नहीं डरेंगे। टीडीपी नेताओं को सवाल करने वालों के खिलाफ केंद्र सरकार आईटी और सीबीआई के जरिए हमले करने की धमकी दे रहे है।"