नई दिल्ली : आंध्र प्रदेश में विपक्षी दल के नेता और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि राष्ट्रीय राजनीति में मुख्य भूमिका निभाने वाले दो पार्टियों (कांग्रेस और बीजेपी) ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया है। इसीलिए राष्ट्रीय राजनीति में तटस्थ नीति अपनाने का फैसला लिया है, जो भी राज्य को विशेष दर्जा (SCS) देगा उनकी पार्टी उनको समर्थन देगी।

वाईएस जगन ने इंडिया टूडे 18वें एडिशन कॉन्क्लेव के अंतर्गत वरिष्ठ पत्रकार राहुल कंवल के साथ हुई चर्चा गोष्ठी में यह बात कही। उन्होंने आगे कहा कि वाईएसआरसीपी को प्रदेश का कल्याण और विशेष दर्जा मुख्य है। जो पार्टी हमारी समस्याओं का निवारण करने का आश्वासन देगी चुनाव के बाद हम उसी पार्टी को समर्थन करेंगे। वाईएस जगन ने कहा कि लोगों की अपेक्षाओं के विरुद्ध प्रदेश का विभाजन किया गया है। विभाजन के दौरान संसद सत्र के दौरान दिये गये विशेष दर्जा आश्वासन को केंद्र सरकार ने अमलवारी नहीं की है।

वार्ता सेपहले इंडिया टूडे के राहुल कंवल के साथ गुफ्तगू करते हुए वाईएस जगन मोहन रेड्डी
वार्ता सेपहले इंडिया टूडे के राहुल कंवल के साथ गुफ्तगू करते हुए वाईएस जगन मोहन रेड्डी

विपक्षी दल के नेता याद दिलाया कि संसद के दरवाजे बंद करके विभाजन का विरोध करने वाले सांसदों को सस्पेंड करके लोकसभा में विभाजन बिल को मंजूरी दी गई है। राज्यसभा में सभी पार्टियों ने विभाजन का समर्थन किया है। साथ ही एपी को विशेष दर्जा देने की घोषणा की गई। ऐसे हालत में बिना राजधानी के और बिना बड़े शहर के प्रदेश के युवक रोजगार और नौकरियों के लिए कहां जाएं? उन्होंने कहा कि प्रदेश के कल्याण के लिए नवरत्नालु लेकर आये है। विशेष दर्जा से ही प्रदेश का कल्याण संभव है।

वाईएस जगन ने जोर देते हुए कहा कि एपी में उद्योग, कारखाने, होटल, बड़े-बड़े अस्पताल चाहिेए तो विशेष दर्जा जरूरी है। साथ ही कर में छूट, जीएसटी में छूट रहने पर ही एपी को पूंजी निवेश करने के लिए कंपनियां आगे आएंगे। ऐसा होने पर ही एपी के छात्रों और युवकों को दूसरे राज्यों में जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

नरेन्द्र मोदी या राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनाने के लिए सपोर्ट के सवाल पर साफ साफ कहा कि उनका किसी से कोई विरोध नहीं है, केवल वह राज्य के भले के लिए विशेष राज्य का दर्जा चाहते हैं, जो देगा उनकी पूरी पार्टी उसी दल व नेता के साथ खड़ी रहेगी।

आपको बता दें कि वाईएस जगन कल शाम इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में भाग लेने के लिए दिल्ली पहुंचे। वाईएस जगन दो दिन तक वे दिल्ली में ही रहेंगे। बैठक में वह उपस्थित लोगों को संबोंधित करेंगे। 'दिल्ली की गद्दी पर कौन आसीन होगा, इस पर दक्षिण भारत का क्या निर्णय होगा' इस विषय पर 'इंडिया टूडे' आयोजित कर रहा है।

इसे भी पढ़ें:

‘इंडिया टुडे कॉन्क्लेव’ में शामिल होंगे YS जगन मोहन, सियासत पर दक्षिण भारत की रखेंगे राय

YS जगन मोहन रेड्डी ‘इंडिया टुडे कॉन्क्लेव’ में भाग लेने पहुंचे दिल्ली

वाईएसस जगन मोहन रेड्डी लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर पार्टी गतिविधियों में व्यस्त हैं। जगन मोहन रेड्डी लंबी पदयात्रा के बाद जल्दी ही बस यात्रा भी शुरू करने वाले हैं।