विजयवाडा : आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट में सोमवार को बोगस वोट्स मामले की सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान निर्वाचन आयोग के अधिवक्ता पोन्नवोलु सुधाकर रेड्डी ने कोर्ट को बताया कि बोगस वोट्स मामले की जांच की जा रही है। अधिवक्ता ने कोर्ट को यह भी बताया कि आगामी 20 फरवरी तक हटाये गये बोगस वोट्स पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। इस मामले की संपूर्ण जानकारी हाईकोर्ट को भी दी जाएगी।

आपको बता दें कि वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने बोगस वोट्स को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। दायर याचिका में वाईएसआरसीपी ने प्रदेश में 59 लाख से अधिक बोगस वोट्स मामले पर आवश्यक कार्रवाई करने का भी हाईकोर्ट से आग्रह किया है।

इसे भी पढ़ें :

वाईएस जगन ने अनंतपुर में तटस्थों से की मुलाकात, दिया यह भरोसा

‘समर शंखारावम’ में YS जगन का बड़ा एलान, YSRCP सत्ता में आते ही दर्ज मामले बिना शर्त वापस

अधिवक्ता ने बताया कि बोगस वोट मामले पर हमने चार चरणों में निर्वाचन अधिकारी को अवगत कराया है। पहले चरण में वाईएसआरसीपी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने ईसी के पास शिकायत की है। दूसरे चरण में हाईकोर्ट को बताया है। तीसरे चरण में निर्वाचन क्षेत्रों में बोगस वोट्स को लेकर लोगों में जागरूकता अभियान चलाया है। चौथे चरण में लोगों को भी उनका नाम मतदाता सूची में है या नहीं देख लेने के बारे में जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है।