हैदराबाद : वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के महासचिव सज्जला रामकृष्ण रेड्डी ने कहा कि साल 2014 में हुए चुनाव में केवल पांच लाख वोटों से हमें सत्ता से दूर होना पड़ा था। रामकृष्ण रेड्डी ने रविवार को नगर में रह रहे कडपा संसद निर्वाचन क्षेत्र लोगों के 'आत्मीय सम्मेलनम' में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे ।

वाईएसआरसीपी सचिव ने आगे कहा कि अनेक उतार-चढ़ाव के बीच पार्टी को शक्तिशाली बनाने का श्रेय वाईएस जगन मोहन रेड्डी को जाता है। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू को सही रास्ता दिखाई नहीं देता है। केवल गलत रास्ते पर चलना ही चंद्रबाबू की नीति है।

इसे भी पढ़ें:

चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश की संस्कृति को डूबो दिया: PM मोदी

‘चौकीदार’ ने आंध्र के CM चंद्रबाबू नायुडू की रात की नींद उड़ा दी है : मोदी

सज्जला ने लोगों को चंद्रबाबू से सावधान रहने का आह्वान करते हुए कहा, "आने वाले चुनाव में एक वोट पर पांच से लेकर दस हजार रुपये खर्च करने को चंद्रबाबू तैयार है। एक ओर फर्जी वोट डाले जाने का षड्यंत्र रचा जा रहा है और दूसरी ओर वाईएसआरसीपी के समर्थकों के वोटों को वोटर्स सूची में से हटाये जाने के लिए सर्वे किया जा रहे है।”

रामकृष्ण रेड्डी ने कहा, “इतना नहीं आने वाले चुनाव में वोटरों को प्रलोभन देकर किसी भी तरह से सत्ता हासिल करने का चंद्रबाबू कोशिश कर रहे हैं। मगर वाईएसआरसीपी प्रदेश के सर्वांगिण विकास को प्रमुखता दे रही है। ऐसे हालत में हम सब को एकजुट होकर काम करने की जरूरत है।"

रामकृष्ण रेड्डी ने नगर में रह रहे वाईएसआरसीपी के समर्थकों, बुद्धिजीवियों और शिक्षाविदों से आह्वान किया कि वे अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र में जाकर हर व्यक्ति को वोट डालने के लिए तैयार करें।