तिरुमला (आंध्र प्रदेश) : हमेशा सुर्खियों में रहने वाले विवादास्पद निर्माता और निर्देशक रामगोपाल वर्मा इस बार मंदिरों के चक्कर काटने को लेकर लोगों का ध्यान आकर्षित किया है।

रामगोपाल वर्मा ने शुक्रवार को दिवंगत एनटी रामाराव की पत्नी लक्ष्मीपार्वती के साथ भगवान बालाजी के दर्शन किये। रामगोपाल ने गुरुवार को काणिपाकम सिद्धिविनायक स्वामी के दर्शन किये। इसी क्रम में आज रामगोपाल वर्मा ने भगवान बालाजी के दर्शन किया है।

यह भी पढ़ें:

कैन्टीन में खाना परोसते ‘सीएम चंद्रबाबू नायडू’, अब RGV की फिल्म में करेंगे काम

राम गोपाल वर्मा ने खुद को बताया आतंकवादी, फिल्म स्कूल उद्घाटन पर कही ये बात...

लड्डू प्रसाद को हाथ लिए रामगोपाल वर्मा
लड्डू प्रसाद को हाथ लिए रामगोपाल वर्मा

इस अवसर पर निर्माता और निर्देशक ने कहा कि "लक्ष्मी'स एनटीआर" फिल्म में सच्चाई बताने की शक्ति प्रदान करने के लिए भगवान बालाजी से प्रार्थना की है।

यह भी पढ़ें:

कौन है यह शख्स, जिसे पकड़ने पर रामगोपाल वर्मा देंगे एक लाख रुपये का इनाम

कतार में रामगोपाल वर्मा
कतार में रामगोपाल वर्मा

साथ ही रामगोपाल वर्मा ने मीडिया से आगे कहा, "ईश्वर पर विश्वास होने के कारण ही भगवान बालाजी के दर्शन किया है। फिल्म ‘लक्ष्मी'स एनटीआर’ में सच्चाई बताने के लिए भगवान बालाजी से आशीर्वाद मांगा है।" उन्होंने यह भी बताया कि शाम 4 बजे तिरुपति शिल्पारामम् में 'लक्ष्मी'स एनटीआर' फिल्म के बारे में बड़ी घोषणा करेंगे।

आपको बता दें कि इससे पहले अनेक बार रामगोपाल वर्मा ने अपने आपको नास्तिक होने की बात कही है। अब तिरुमला स्थित भगवान बालाजी के दर्शन करके मीडिया की सुर्खियों में छा गये है। नागार्जुना के अभिनयन में निर्मित 'गोविंदा गोविंदा' फिल्म की शूटिंग के दौरान भी रामगोपाल वर्मा ने भगवान बालाजी के दर्शन नहीं किये थे। अब लोगों में यह चर्चा का विषय बन गया है कि रामगोपाल वर्मा अब धीरे-धीरे नास्तिकता को छोड़कर आस्तिकता की ओर बढ़ रहे हैं।