चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा घटते ही चिल्लाने लगे पार्टी के नेता

फाइल फोटो - Sakshi Samachar

विजयवाड़ा : तेलुगु देशम पार्टी ने अपने अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा घटाने संबंधी आंध्र प्रदेश सरकार के निर्णय की मंगलवार को कड़ी आलोचना करते हुए सुरक्षा का पूर्ववर्ती स्तर बहाल करने की मांग की।

पार्टी ने कहा कि नायडू के पास एनएसजी के साथ जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा है जबकि उनके पुत्र नारा लोकेश की सुरक्षा जेड श्रेणी से घटाकर एक्स कर दी गई। तेदेपा के प्रदेश अध्यक्ष काला वेंकट राव ने एक बयान में कहा, ‘‘सुरक्षाकर्मियों की संख्या में भारी कटौती कर दी गई है। पहले 146 सुरक्षाकर्मी थे, लेकिन अब 67 हैं।''

उन्होंने कहा कि सुरक्षा समीक्षा समिति (एसआरसी) के राजनीति से प्रेरित निर्णय की पार्टी कड़ी आलोचना करती है और सुरक्षा का पुराना स्तर बहाल करने की मांग करती है।

यह भी पढ़ें:

चंद्रबाबू नायडू को नहीं लांघनी चाहिए सदन की मर्यादा, CM  जगन मोहन के बोल

चंद्रबाबू नायडू और नारा लोकेश की सुरक्षा घटी, कई और सुविधाओं से हुए महरूम

आंध्र प्रदेश में सत्ता से रुखसत होने के बाद चंद्रबाबू नायडू की ठसक अब खत्म हो गई है। चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश की कई सरकारी सुविधाएं खत्म कर दी गई हैं। यहां तक कि नायडू परिवार के बाकी सदस्य भी जो सत्ता की चाशनी का स्वाद ले रहे थे, उन्हें भी अब आम लोगों ने जमीन पर ला दिया है।

हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री की सुरक्षा और सुविधाओं में कमी नियमानुसार ही की गई है। साथ ही इसमें किसी तरह की राजनीतिक बदले की कार्रवाई शामिल नहीं है। सत्ताधारी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने इस बात की तस्दीक की।

चंद्रबाबू नायडू के मुख्यमंत्रीत्व काल में विधायक बेटे नारा लोकेश को भी जेड श्रेणी की सुरक्षा मिली थी। जिसे नियम के मुताबिक हटा लिया गया है। लोकेश की सुरक्षा 5+5 से कमकर 2+2 कर दिया गया है।

Advertisement
Back to Top