अमरावती : तेलुगू देशम पार्टी के एक सांसद को मंगलवार तड़के किसान प्रदर्शन के एक मामले में गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस ने बताया कि गुंटूर से सांसद जयदेव गल्ला के खिलाफ विभिन्न गैर जमानती धाराओं के तहत सोमवार देर रात मामला दर्ज किया और उसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

सांसद को देर रात करीब तीन बजे मंगलगिरि मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। जमानत ना मिलने पर सुबह करीब साढ़े चार बजे उन्हें गुंटूर उप जेल ले जाया गया। आंध्र प्रदेश में तीन राजधानियां बनाने की योजना को आकार देने संबंधी ‘आंध्र प्रदेश विकेंद्रीकरण एवं सभी क्षेत्रों का समावेशी विकास विधेयक, 2020' को विधानसभा में पेश किए जाने के खिलाफ सोमवार को प्रदर्शन किया गया था। हंगामे के बीच बाद में यह विधेयक पारित भी हो गया।

अमरावती को ही राज्य की राजधानी बनाए रखने की मांग करते हुए निषोधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए सैंकड़ों किसानों और महिलाओं ने सोमवार को पुलिस अवरोधकों को तोड़कर विधानसभा परिसर पहुंचने की कोशिश की थी।

इसे भी पढ़ें :

आयकर विभाग ने टीडीपी सांसद जयदेव गाल्ला के ऑफिस में छापा मारा

गल्ला जयदेव ने आश्वासनों के लिए दिया ‘भारत आने नेनु’ का हवाला

गुंटूर ग्रामीण के एसपी सी. विजया राव के अनुसार इनमें से कुछ ने पुलिस कर्मियों पर पथराव भी किया था, जिसमें कम से कम छह कॉन्स्टेबल घायल हो गए। पुलिस कर्मियों पर हमला करने वाले कुछ लोग कथित तौर पर सांसद के समर्थक थे।