अनंतपुर: आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने जिले के पेनुकोंडा में किया मोटर्स का उद्घाटन किया। इस कार्यक्रम में सीएम जगन मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे। इस अवसर पर सीएम जगन ने किया प्रबंधन से मुलाकात की। वहां अधिकारियों से इस उद्योग से जुड़ी जानकारी हासिल की।

सीएम ने इस उद्योग से जुड़े सभी क्षेत्रों की जांच की। किया मोटर्स के प्रबंधन को बधाई दी। सीएम जगन ने कहा कि इस कंपनी के आने से उन्हें उम्मीद है कि इसकी तरह और ज्यादा कंपनियां राज्य की ओर आकर्षित हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि कंपनी का उद्घाटन करके उन्हें काफी प्रसन्नता हो रही है।

अनंतपुर में सीएम जगन ने किया ‘किया मोटर्स’ का उद्घाटन 
अनंतपुर में सीएम जगन ने किया ‘किया मोटर्स’ का उद्घाटन 

सीएम जगन ने कहा कि अच्छी खबर यह है कि किया कार उद्योग उच्चतम तकनीकी मानकों पर सेट है। उन्होंने एपी में इतने बड़े उद्योग की स्थापना के लिए कंपनी की सराहना की

सीएम जगन ने उद्घाटन समारोह में किया फैक्ट्री की डॉक्यूमेंट्री तस्वीरें भी देखी। ज्ञात हो कि दिवंगत मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी के प्रयासों से ही दक्षिण कोरिया ने अनंतपुर में किया मोटर्स की फैक्ट्री स्थापित की। इस कार उद्योग को 13,500 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित किया गया है।

एपी सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी 
एपी सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी 

इस कार्यक्रम के बाद सीएम अनंतपुर जिले के जन प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे। जिले में विकास व कल्याण योजनाओं का जायजा लेंगे।

इसे भी पढ़ें :

सीएम जगन ने आंध्र पुलिस को दिया एक और तोहफा, मिलेंगे लाखों रुपये

सीएम जगन का अहम फैसला, 26 दिसंबर को होगा कड़पा स्टील प्लांट का शिलान्यास

इसके अलावा अनंतपुर-बैंगलोर औद्योगिक गलियारे पर भी सीएम चर्चा कर सकते हैं। वाईएस जगन सरकार पहले ही गुडीपल्ली में इलेक्ट्रिक बसों के निर्माण उद्योग को हरी झंडी दे चुकी है। वीरवाहन कंपनी को 120 एकड़ जमीन का आवंटन भी पूरा हो चुका है।

किया मोटर्स के प्रबंधकों के साथ सीएम जगन मोहन रेड्डी 
किया मोटर्स के प्रबंधकों के साथ सीएम जगन मोहन रेड्डी 

किया फैक्ट्री के भव्य उद्घाटन समारोह में मंत्री बोत्सा सत्यनारायण, गौतम रेड्डी, शंकर नारायण, गुम्मनूरु जयराम, सरकार के सचेतक कापू रामचंद्र रेड्डी, विधायक अनंत वेंकटरामी रेड्डी, तोपुदुर्ति प्रकाश रेड्डी, डॉ सिद्दारेड्डी, सांसद गोरेंथा माधव, एमएलसी इकबाल और पूर्व विधायक डॉ विश्वेश्वर रेड्डी और गुरनाथ रेड्डी आदि शामिल हुए।