पीठापुरम: टीडीपी अब तक पीठापुरम को अपना गढ़ बताते आई है और अब उसी गढ़ में महिला नेताओं ने पार्टी को जबरदस्त शॉक दिया है। एक-दो नहीं बल्कि 200 महिला नेताओं व कार्यकार्ता टीडीपी से इस्तीफा देकर वाईएसआरसीपी में शामिल हो गई है। विधायक पेंडेम दोरबाबू ने इनका पार्टी में शामिल होने पर स्वागत किया।

पीठापुरम के तीसरे वार्ड से संबंधित के नागलक्ष्मी, अरुणाश्री के तत्वावधान में बुधवार को 200 महिला नेताओं व कार्यकर्ताओं ने टीडीपी से इस्तीफा देकर वाईएसआरसीपी में शामिल हुई। इस कार्यक्रम में विधायक पेंडेम दोरबाबू ने पार्टी में इनका स्वागत किया और कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डीने महिलाओं के कल्याण के लिए कई तरह योजनाएं शुरू की है और वे लगातार महिलाओं की सुरक्षा के अहम कदम भी उठा रहे हैं।

दिवंगत मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी द्वारा लागू की गई योजनाओं को भी फिर से लागू किया जा रहा है।विधायक ने ये भी कहा कि महिलाओं के कल्याण के लिए सरकार कई तरह की योजनाएं लागू कर रही है, महिलाओं की हर मुमकिन मदद के लिए सरकार प्रतिबद्ध है इसीलिए अधिकतर महिलाएं वाईएसआरसीपी में शामिल हो रही है।

उन्होंने टीडीपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछली टीडीपी सरकार ने महिलाओं के भरोसे का पूरी तरह से फायदा उठाया और फिर उन्हें धोखा दिया। ड्वाक्रा महिलाओं को तो कर्ज में पूरी तरह से डुबोकर ही रख दिया।

विधायक ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए विशेष कदम उठाए गए हैं कि निर्वाचन क्षेत्र में महिलाएं सुरक्षित रहें और उन्हें किसी तरह की कोई तकलीफ न हो।

इसे भी पढ़ें :

सीएम जगन ने आंध्र पुलिस को दिया एक और तोहफा, मिलेंगे लाखों रुपये

सीएम जगन का अहम फैसला, 26 दिसंबर को होगा कड़पा स्टील प्लांट का शिलान्यास

इस कार्यक्रम में कई वाईएसआरसीपी नेता, बालीपल्ली रामबाबू और कई अन्य महिलाएं शामिल थीं। पार्टी में शामिल होने वाली महिलाओं ने विधायक दोराबाबू को सम्मानित किया।