राजधानी में क्या बचा है जो चंद्रबाबू फिर लूटना चाहते हैं - बोत्सा 

बोत्सा सत्यनारायण - Sakshi Samachar

विजयवाड़ा: आंध्र प्रदेश का मंत्री बोत्सा सत्यनारायण ने विपक्ष के नेता चंद्रबाबू नायडू से प्रश्न किया कि आखिर वे राजधानी में आकर आखिर क्या देखना चाहते हैं। मंगलवार को मंत्री वेलमपल्ली श्रीनिवासराव के साथ संवाददाताओं से बात करते हुए बोत्सा सत्यनारायण ने कहा कि चंद्रबाबू ने जो हाल अपने पांच साल के शासन में राज्य का किया है उसे तो पच्चीस सालों तक भी ठीक नहीं किया जा सकता।

बोत्सा ने आगे कहा कि बाबू के शासन की नीति ही यह रही कि किस तरह और कहां से राज्य को लूटा जाए और अपना घर भरा जाए।

बोत्सा ने बाबू पर गुस्सा व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने तो पूरे राज्य को ही जैसे श्मशान बनाकर रख दिया है। उन्होंने आगे कहा कि अब बाबू कह रहे हैं कि राजधानी पवित्र होती है तो फिर अपने पांच सालों के शासनकाल में उन्होंने इसका यह हाल क्यों किया। क्या उन्हें उन पांच सालों में एक बार भी यह ख्याल नहीं आया कि राजधानी का निर्माण किया जाना चाहिए।

बोत्सा ने बाबू से प्रश्न किया कि आखिर हजारों करोड रुपयों का उधार लेकर उन्होंने राजधानी पर कहां और कैसे खर्च किया जरा बताएं। बोत्सा ने कहा कि बाबू कहते हैं कि सिंगापुर के कंसोर्टियम के साथ कई बार उन्होंने बातचीत की पर उनके साथ उनका समझौता ही दोषपूर्ण लगता है।

बोत्सा ने यह भी कहा कि पूर्व सरकार की तरह जनता के धन की बर्बादी न करने के लिए मुख्यमंत्री वाईएस जगन ने साफ तौर पर निर्देश दिये हैं। बोत्सा ने बताया कि अगले साल की संक्रांति के बाद स्थानीय निकायों के लिए चुनाव होंगे।

इसे भी पढ़ें :

राज्य मंत्रिमंडल की बैठक आज, इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

CM जगन ने कहा- आरोग्यश्री के तहत ऑपरेशन कराने वाले को हर महीने मिलेंगे 5,000 रुपए

मंत्री वेलमपल्ली श्रीनिवास राव ने कहा कि जनता के बीच बने रहने के लिए लोकेश हर दिन कोई न कोई नया ट्विट करते रहते हैं, बेकार के आरोप लगाते हैं जिन्हें देखकर हंसी आती है।

उन्होंने आगे कहा कि जो व्यक्ति कार्पोरेटर का चुनाव नहीं जीत सकता वह सीएम के बारे में जब ऐसी बातें करता है तो हास्यास्पद लगता है।

Advertisement
Back to Top