विजयनगरम : शहरी विकास और नगर मामलों के मंत्री बोत्सा सत्यनारायण ने मछुआरों के लिए एक अच्छा अवसर प्रदान करने के लिए सरकार की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि मछुआरे जो समुद्र में विश्वास करते हैं और मछली पकड़ने को ही करियर बनाते हैं उनको सरकार ने प्रोत्साहित करने के लिए अच्छा कदम उठाया है।

राज्य के विकास के लिए वाईएसआर कांग्रेस सरकार सभी वर्गों के लोगों का समर्थन कर रही है। मंत्री ने गुरुवार को कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने पदयात्रा के दौरान दिए गए सभी वादों को लागू कर रहे हैं।

राज्य के इतिहास में पहली बार मछुआरों के लिए 500 करोड आवंटित किये गए हैं। जब मछुआरे मछली पकड़ने नहीं जाते तब मछुआरों के परिवारों को दस हजार रुपये दिये जाएंगे। इस योजना से जिले के लगभग 2645 मत्स्य पालक परिवार लाभान्वित होंगे।

डीजल सब्सिडी को 6 रुपये से बढ़ाकर 3 रुपये कर 9 रुपये कर दिया गया है, वहीं जहां पहले की किसी मछुआरे की दुर्घटना में मौत हो जाती तो उस परिवार को 5 लाख दिये जाते थे, वहीं हमारी सरकार ने इस राशि को बढ़ाकर दस लाख कर दिया है। यह बहुत ही अच्छा फैसला है और इसकी जितनी तारीफ की जाए कम है।

इसे भी पढ़ें :

श्रीशैलम बांध की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं-मंत्री अनिल कुमार यादव

CM वाईएस जगन ने किया ‘ YSR मत्स्यकार भरोसा’ योजना का शुभारंभ

पूर्व की टीडीपी सरकार में जहां सिर्फ बातें होती थी वहीं हमारी सरकार काम पर विश्वास करती है और जबसे हमारी सरकार बनी है तबसे लगातार काम कर रही है।

विपक्ष के लोगों को यह सब अच्छा नहीं लग रहा इसलिए वे इसका विरोध करते हुए आलोचना कर रहे हैं। उन्होंने यह स्पष्ट किया है कि उनकी सरकार का मुख्य उद्देश्य वंचितों और वंचितों की सहायता करना है। वहीं बोत्सा ने ये भी कहा कि राज्य की संपदा किसी एक की नहीं है, उस पर सबका समान हक है और हमारी सरकार सबको अपना हक दे रही है।