विजयवाड़ा : सिंचाई मंत्री अनिल कुमार यादव ने कहा कि रिवर्स टेंडरिंग के जरिए प्रदेश सरकार को 900 करोड़ रुपये की बचत हुई है। मंत्री ने रविवार को मीडिया से यह बात कही।

उन्होंने आगे कहा, "प्रदेश के सभी परियोजनाओं में रिवर्स टेंडरिंग के कारण सरकार को लगभग 4 से 5 हजार करोड़ रुपये की बचत होगी। पोलवरम रिवर्स टेंडरिंग में भाग लेने के लिए नवयुग संस्था को भी आमंत्रित किया गया है।"

अनिल कुमार ने कहा कि तेलुगु देशम पार्टी के शासनकाल में टेंडर हासिल कर चुकी रित्विक संस्था ने वेलिगोंडा रिवर्स टेंडरिंग में कम ही टेंडर डाला है। उन्होंने कहा कि निधि की बचत कर चुकी वाईएसआरसीपी की सरकार को टीडीपी के नेताओं को बधाई देना चाहिए।

इसे भी पढ़ें :

रिवर्स टेंडरिंग से हुआ टीडीपी का घपला, पोलावरम में 830 करोड़ की बचत

वेलिगोंडा परियोजना के रिवर्स टेंडरिंग में सरकारी खजाने को 62 करोड़ का लाभ

मंत्री ने कहा कि रिवर्स टेंडरिंग नहीं होता तो यह निधि किस बाबू के जेब में जाते थे, यह सभी जानते हैं। अनिल कुमार ने कहा कि एक अच्छे मन के वाईएस जगन मोहन रेड्डी मुख्यमंत्री बन जाने के कारण प्रदेश अच्छी बारिश हुई है। प्रदेश में पूरे जलाशय भर गये हैं।