एलुरु (आंध्र प्रदेश) : पुलिस ने बुधवार को तेलुगु देशम पार्टी के पूर्व विधायक चिंतमनेनी प्रभाकर को गिरफ्तार किया। चिंतमनेनी के खिलाफ दलितों को जाति के नाम पर गाली देने और हमला किये जाने का मामला दर्ज है। मामला दर्ज होने के बाद से यानी 12 दिनों से चिंतमनेनी फरार है। इसी क्रम में चिंतमनेनी बुधवार को दुग्गिराला में अपने मकान में प्रत्यक्ष हो गये।

इसके चलते पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है। इस दौरान चिंतमनेनी के समर्थकों ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इतना ही नहीं छह महिला कांस्टेबलों को चिंतमनेनी के समर्थकों ने उनके मकान में बंदी बनाया।

इसे भी पढ़ें :

‘चलो आत्मकुरु’ : चंद्रबाबू के आवास के पास टीडीपी का ओवर एक्शन, कई नेता हाउस अरेस्ट

रास्ता रोकने पर पुलिस पर भड़के टीडीपी नेता, अधिकारी को कहा ‘यूजलेस फेलो’

चिंतमेनी को रोकते हुए समर्थक
चिंतमेनी को रोकते हुए समर्थक

आपको बता दें कि चिंतमनेनी ने पिनकडिमी गांव के दलित युवकों पर हमला करने और जाति के नाम पर गाली दिया था। इसके चलते पुलिस ने टीडीपी नेता प्रभाकर के खिलाफ एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। इसके अलावा 10 अन्य मामले भी दर्ज है। इस घटना के बाद से चिंतमनेनी फरार हो गये।

इसे भी पढ़ें :

पलनाडु में धारा 144 लागू, कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए उठाए जाएंगे जरूरी कदम : डीजीपी

दूसरी ओर चिंतमनेनी को गिरफ्तार करके ले जाते समय उनके समर्थकों ने पुलिस वाहन को गोपन्नपालेम के पास रोका। इस दौरान पुलिस और चिंतमनेनी के समर्थकों के बीच गंभीर बहस हुई है।