विजयवाड़ा : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने चंद्रयान 2 के चंद्र मिशन पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। वाईएस जगन ने शनिवार को ट्वीट किया, “विक्रम लैंडर लगभग चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सकुशल पहुंच गया था। हमारे इसरो वैज्ञाविकों को देखकर पूरा भारत गर्व महसूस कर रहा है।”

उन्होंने कहा कि विक्रम चंद्रमा के करीब पहुंचा। इसी दौरान छोटी सी समस्या उत्पन्न हुई। यह भी हमारे भविष्य की विजयी सीढ़ी है। इस बात को ध्यान में रखते हुए आगे बढ़ना चाहिए। ऐसी मुश्किल घड़ी में पूरा देश वैज्ञानिकों के साथ है। इसरो के वैज्ञानिक बधाई के पात्र है।

आपको बता दें कि चंद्रयान-2 के आखिरी चरण में भारत के मून लैंडर विक्रम से उस समय संपर्क टूट गया। शनिवार तड़के चंद्रमा की सतह की ओर बढ़ रहा था। इससे 978 करोड़ रुपये की लागत वाले चंद्रयान-2 मिशन पर संस्पेंस बढ़ गया है। इससे जहां इसरो के वैज्ञानिकों में निराशा देखने को मिली। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाया और कहा कि आपने बहुत अच्छा काम किया है।

इसे भी पढ़ें :

Chandrayaan 2 : कैसे चंद्रमा पर ‘कदम’ रखेगा चंद्रयान-2, देखें वीडियो

उपदेश देने नहीं प्रेरणा लेने आया हूं, पूरा देश वैज्ञानिकों के साथ : PM मोदी

इसी क्रम में इसरो के अध्यक्ष के सिवन ने कहा कि संपर्क उस समय टूटा, जब विक्रम चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने वाले स्थान से 2.1 किलोमीटर दूर रह गया था। उन्होंने कहा कि चंद्रमा की सतह से 2.1 किलोमीटर पहले तक लैंडर प्लान के हिसाब से काम कर रहा था। इसके बाद उससे संपर्क टूट गया।