विजयवाड़ा : आंध्र प्रदेश विधानसभा में पहली बार तेलुगु देशम पार्टी के तीन सदस्यों को निलंबित किया गया है। मंगलवार को विधानसभा सत्र शुरुआत होते ही टीडीपी के सदस्यों ने सदन में बार-बार कामकाज में अवरोध उत्पन्न करने लगे।

विधानसभा अध्यक्ष ने टीडीपी के सदस्यों के शांत होने का अनुरोध भी किया। मगर टीडीपी के सदस्य शांत रहने का नाम नहीं ले रहे थे। इसके चलते विधानसभा के अध्यक्ष ने टीडीपी के सदस्य अच्चेनायडू, बुच्चय्या चौधरी और रामानायडू को निलंबित कर दिया।

अध्यक्ष ने तीनों सदस्यों को दिन भर की कार्यवाही तक के लिए निलंबित कर दिया है। इसके बाद विधानसभा शुरू हुआ। फिर भी अन्य सदस्य विधानसभा में हंगामा करत हुए पाये गयेे।

इसे भी पढ़ें :

CM जगन मोहन ने की नई योजना ‘YSR नवोदयम’ की घोषणा, उद्योगों को मिलेगी संजीवनी

कुछ दिन और बने रहते राज्यपाल नरसिम्हन तो अच्छा होता : वाईएस जगन

विधानसभा सत्र की शुरुआत होते ही टीडीपी के सदस्यों ने स्पीकर के माइक को छीनने की कोशिश की। साथ ही विधानसभा अध्यक्ष की आसन की ओर बढ़ते गये। अध्यक्ष ने टीडीपी के सदस्यों को शांत रहने की बार बार अपील की। मगर वे नहीं माने।

यह देख मंत्री बुग्गना राजेंद्रनाथ रेड्डी ने टीडीपी के सदस्यों को निलंबित करने का प्रस्ताव पेश किया। इसके चलते विधानसभा अध्यक्ष ने बुग्गना के प्रस्ताव को मंजूर किया और तीनों सदस्यों को सदन से बाहर जाे का आग्रह किया। इसके बाद भी टीडीपी के तीनों सदस्य सदन में हंगामा करने लगे। यह देख मार्शल ने आकर टीडीपी के सदस्यों को बाहर ले गये।