विजयवाड़ा : वाईएसआरसीपी के संसदीय दल के नेता विजयसाई रेड्डी ने चंद्रबाबू को आड़े हाथों लिया। उन्होंने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा कि चंद्रबाबू अगर कहे कि 2 हजार से 15 हजार कम है तो मान लेना चाहिए क्योंकि ऐसा अगर हम न करें तो वे धरना करने की बात करेंगे।

विजय साई रेड्डी ने कहा कि चुनाव से पहले चंद्रबाबू ने इंटर के छात्रों के लिए दोपहर का भोजन शुरू किया था और इसका खर्च सिर्फ 2 हजार था।

वहीं चुनाव के बाद छात्रों के लिए मुख्यमंत्री वाईएस जगन ने भोजन के बदले हर साल 15 हजार देने की घोषणा की तो चंद्रबाबू इसे गलत करार दे रहे हैं।

साथ ही यह भी कह रहे हैं कि यह राशि कम है और इसे ब बढ़ाने से वे धरना देंगे। विजय साई रेड्डी ने व्यंग्य करते हुए कहा कि अब हमें चंद्रबाबू की यह बात मान लेनी चाहिए कि 2 हजार से 15 हजार कम है।

इसे भी पढ़ें :

अनिल कुमार यादव बोले - आंध्र के लिए संजीवनी है पोलावरम प्रॉजेक्ट

वहीं सोमवार को राज्यसभा में शू्न्यकाल में विजयसाई रेड्डी ने पाकिस्तान की जेल में कैद आंध्र के मछुआरों को छुड़वाने के लिए केंद्र से विनति की।

श्रीकाकुलम, विजयनगरम जिले के 28 मछुआरे पाक की जेल में कैद है और इन्हें छुड़ाने के लिए जल्द से जल्द केंद्र को कार्यवाही करने के केंद्र से विनति की है।