हैदराबाद : तेलंगाना भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ के लक्ष्मण ने मुख्यमंत्री केसीआर को पोलावरम परियोजना और अन्य योजनाओं को लेकर आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि दोनों तेलुगू राज्यों के मुख्यमंत्रियों का आपस में तालमेल और सुझबुझ काम करते हुये राज्यों का विकास करने की सहमति सराहनीय है।

भाजपा युवा कार्यकर्ता
भाजपा युवा कार्यकर्ता

डॉ लक्ष्मण ने केसीआर पर तंज कसते हुये कहा कि यही कदम केसीआर ने पहले क्यों नहीं उठाया। उनकी बेटी पूर्व सांसद कविता ने ही पोलावरम परियोजना के निर्माण पर आपत्ति जताई है। उन्होंने इस संदर्भ में न्यायालय में याचिका दायर की है। याचिका में उनका कहना था कि पोलावरम परियोजना के बनने से तेलंगाना को नुकसान हो सकता है।

भाजपा  में शामिल कार्यकर्ता का स्वागत करते भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ के लक्ष्मण
भाजपा  में शामिल कार्यकर्ता का स्वागत करते भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ के लक्ष्मण

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ लक्ष्मण ने कहा कि पोलावरम परियोजना में 34 लाख क्यूसेक जल बाढ़ का पानी आता है तो तो दक्षिण के अयोध्या कहे जाने वाले भद्राचलम में 43 फीट तक पानी का जमाव होता है और यह पानी श्रीराम के चरणों तक आ जाता है। यह बात हाई पावर समिति के प्रस्ताव में दी गई है।

भाजपा में शामिल कार्यकर्ता का स्वागत करते डॉ के लक्ष्मण 
भाजपा में शामिल कार्यकर्ता का स्वागत करते डॉ के लक्ष्मण 

डॉ लक्ष्मण ने कहा कि पोलावरम में 50 लाख क्युसेक बाढ़ के पानी का जल भराव होता है तो भद्राचलम में अगर उपरोक्त स्थिति बन जाती है तो भद्रादी के निकट बसे उद्योगों, आईटी फैक्ट्रियों और भद्राचलम के लोगों के भविष का क्या होगा।

इसे भी पढ़ें :

तेलंगाना और AP के मुख्यमंत्रियों ने नदी जल बंटवारे समेत लंबित मुद्दों पर की चर्चा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केसीआर ने केवल अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए लोगों को गुमराह किया है। अब तक पोलावरम परियोजना के निर्माण से तेलंगाना के नुकसान की बात कहने वाली केसीआर के नेतृत्व में बनी सरकार अब कैसे सोच रही है कि पोलवरम परियोजना के बनसे तेलंगाना का कोई नुकसान होगा।