नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश के सीएम इलेक्ट वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने नई दिल्ली में प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने विभिन्न मुद्दों पर खुलकर अपनी राय व्यक्त की। वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने सरकार में चल रही धांधलियों और अनियमितताओं को खत्म करना अपनी पहली प्राथमिकता बताई। जगन मोहन रेड्डी के मुताबिक बीते पांच साल के दौरान आंध्र प्रदेश के शासन में भ्रष्टाचार ने अपनी जड़ें जमा ली है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात के बाद वाई एस जगन मोहन रेड्डी प्रेस से मुखातिब थे। इस दौरान उन्होंने दोनों नेताओं से आंध्र सरकार की अपेक्षाओं के बारे में बातचीत की।

वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने अपनी सरकार में पारदर्शिता की बात कही। जमीनी स्तर से लेकर टॉप लेवल पर उन्होंने आमूलचूल परिवर्तन का संकेत दिया। विभिन्न विभागों की समीक्षा के बाद श्वेत पत्र जारी करने की उन्होंने बात कही। ताकि लोगों का एक बार फिर से सरकार के प्रति भरोसा कायम हो सके।

अगले छह महीने से लेकर एक साल के दौरान वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने भ्रष्टाचार को खत्म करने में पूरा जोर लगाने की बात कही। उन्होंने कहा कि राज्य की वित्तीय स्थितियों को सुधारने के लिए भी प्रयास किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:

‘YS जगन मोहन-मोदी’ मुलाकात के दौरान दिखी गर्मजोशी: VIDEO

वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने जोर देते हुए कहा कि न सिर्फ भ्रष्टाचार के खिलाफ वे लड़ाई लड़ेंगे। बल्कि पूरी प्रक्रिया से आम लोगों को रूबरू भी करवाएंगे। ताकि लोग समझ सकें कि एक ईमानदार शासन कैसे चलाया जाता है।

अमरावती के राजधानी के तौर पर विकास को लेकर पूछे गए एक सवाल पर वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने जवाब दिया। उनके मुताबिक चंद्रबाबू नायडू की सरकार ने अमरावती के नाम जबरदस्त घोटाला किया है। लैंड पूलिंग के नाम पर करोड़ों वारे न्यारे किये गए। साथ ही राजधानी क्षेत्र के आस पास के इलाके को रियल स्टेट के फायदे के लिए कीमतों के लिहाज से परवान चढ़ने दिया। जगन मोहन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू और उनकी बेनामी संपत्तियों के बारे में खुलासा किया।

वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने आरोप लगाया कि चंद्रबाबू ने अपने लोगों को राजधानी क्षेत्र के आसपास किसानों से सस्ते दर में जमीनें खरीदने के लिए प्रेरित किया। जबकि इस दौरान राजधानी बनाने के नाम पर वो लोगों को बरगलाते रहे।

चंद्रबाबू नायडू ने दावा किया कि उनकी सरकार पोलावरम परियोजना को पूरा करेगी। साथ ही भ्रष्ट ठेकेदारों पर नकेल कसने के लिए वे हर संभव उपाय करेंगे। जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि पोलावरम परियोजना को पूरा करने के लिए जरूरत पड़ने पर केंद्रीय एजेंसियों को नियुक्त किया जाएगा।

अपने पार्टी घोषणा पत्र को वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने कुरान, बाइबल और भागवत गीता की संज्ञा दी। उन्होंने दावा किया कि उनकी सरकार जनता से किए वादों को जरूर पूरा करेगी।