हैदराबाद : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायुडू को दिल्ली में सभी लोग 'फेविकोल बाबा' के नाम से बुलाते हैं। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद विजय साई रेड्डी ने अपने ट्वीट में यह बात कही है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोग कह रहे है कि चुनाव के समय में उनको टेंशन रहती है। ऐसे समय में बिना बुलाये मेहमान जैसा यहां आकर यह ‘फेविकोल बाबा’ नेताओं से मिलकर क्या वार्तालाप कर रहे हैं?

विजय साई रेड्डी ने ट्वीट में लिखा है, "दिल्ली में चंद्रबाबू को सभी फेविकोल बाबा के नाम से बुलाने लगे हैं।" बिना बुलाये मेहमान जैसा सभी के घरों में जाकर फोटो उतारते हैं। उनको मिलाऊंगा और इनको एकजुट करूंगा कहते हुए दिल्ली में घुमने के कारण यहां के लोगों ने चंद्रबाबू को यह निक नेम दिया है। साथ ही कह रहे हैं कि जिसका टेंशन उनको है, बिना समय और संदर्भ के यह फेविकोल बाबा यहां आकर पैरवी करने का क्या मतलब है?

यह भी पढ़ें :

एग्जिट पोल में 2019 के रण में TDP से YSRCP आगे, लोकसभा और विधानसभा में बजेगा डंका

चंद्रगिरी निर्वाचन क्षेत्र में पांच रिपोलिंग केंद्रों के लिए जिम्मेदार अधिकारी निलंबित

विजय साई रेड्डी ने कहा, "सातवें चरण के चुनाव के दौरान किसी को भी फुर्सत नहीं है। मगर चंद्रबाबू जाकर मायावती, अखिलेश यादव, राहुल गांधी, शरद पवार और अन्य के साथ फोटो उतारने के लिए उन्हें परेशान करने पर तुले हैं। खुद के राज्य में तो जीत की उम्मीद नहीं है। मगर दिल्ली और लखनऊ में आकर प्रचार कर रहे हैं। एनडीए और इतर पार्टियां अपनी साख बचाने में जुट गई है। ऐसे समय में चंद्रबाबू आकर एकता के लिए चर्चा कर रहे है।"

विजय साई रेड्डी ने कहा, "युपीए, माया-अखिलेश फ्रंट ढीले पड़ गये। चंद्रबाबू के नखरों को भी ये जान गये हैं। लगडपाटी के सर्वे को भी सभी ने बकवास कहा है। बेचार चंद्रबाबू अब न इधर के रहे और न ही उधर के रहे है।"