नई दिल्ली : रिपोलिंग के फैसले को गलत ठहराने वाले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को सीईसी सुनील अरोड़ा से मुलाकात की। चंद्रबाबू ने सीईसी के साथ लगभग डेढ़ घंटे तक बातचीत की।

पिछले कुछ समय से चुनाव आयोग के खिलाफ बेबुनियादी आरोप लगाने वाले चंद्रबाबू को उस वक्त करारा झटका लगा जब आयोग ने उन्हें चंद्रगिरी के मतदान केंद्र में टीडीपी के नेताओं द्वारा किया गया रिगिंग का एक वीडियो को दिखाया। पार्टी नेताओं के काले कारनामों को देखकर चंद्रबाबू शर्मिंदगी महसूस करते हुए खामोश बाहर चले गये।

दूसरी ओर, आंध्र प्रदेश में रिपोलिंग पर प्रदेश निर्वाचन अधिकारी गोपालकृष्णा द्विवेदी ने कहा है कि ऐसा कहीं नहीं लिखा है कि दूसरी बार रिपोलिंग नहीं कराना चाहिए । उन्होंने कहा कि मतदान केंद्र में घटी घटनाओं की जानकारी देर से मिलने के कारण ही यहां फिर से मतदान करने का निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़ें :

5 साल में पीएम मोदी की पहली प्रेस कान्फ्रेंस, फिर से किया सरकार बनाने का दावा

जल्द हो जिला परिषद और मंडल परिषद के चेयरमैनों का चयन : उत्तम कुमार रेड्डी

द्विवेदी ने बताया कि रविवार सुबह 7 से शाम 6 बजे तक लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए रिपोलिंग होगी । रिपोलिंग एनआर कम्मापल्ली (321), पुलिवर्तीवारीपल्ली (104), कोत्ताखंड्रीगा (316), कम्मपल्ली (318) और वेंकटरामापुरम (313) किया जाएगा। इसके लिए जरूरी तैयारी की जा चुकी है।