आंध्र प्रदेश में एक ऐसा परिवार है जिसका हर सदस्य चुनाव प्रचार में जुटा हुआ है। राज्य की वर्तमान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सुप्रीमो वाईएस जगन सहित उनके परिवार के सभी सदस्य चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं।

वाईएस जगन मोहन रेड्डी जहां हर दिन तीन से चार चुनावी रैलियों को संबोधित कर रहे हैं, वहीं उनकी बहन वाईएस शर्मिला, उनकी मां वाईएस विजयम्मा तथा उनकी पत्नी वाईएस भारती चुनावी प्रचार को धार देने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं।

चुनाव प्रचार करती हुईं वाईएस भारती
चुनाव प्रचार करती हुईं वाईएस भारती

ऐसा नहीं है कि केवल चुनाव के वक्त ही परिवार के सदस्य चुनाव मैदान में उतरे हैं। इससे पहले वाईएस जगन ने अपने पिता की मृत्यु के सदमें से मारे गए लोगों के प्रति सहानुभूति देने के लिए जब ओदार्पु यात्रा शुरू की थी तब भी वाईएस शर्मिला और वाईएस विजयम्मा ने जगन का साथ दिया था। पिछले 20 दिन में वाईएस जगन और उनके परिवार के सदस्य 100 से अधिक चुनावी रैलियों को संबोधित कर चुके हैं। इनमें सिर्फ वाईएस जगन 68 चुनौली रैली कर चुके हैं।

वाईएसआर परिवार पिछले नौ वर्षों से लोगों के बीच है और समय-समय पर लोगों की समस्याओं सहित राज्य के लिए स्पेशल स्टेट्स की मांग को लेकर आंदोलन करते हुए लोगों के बीच अपनी एक अलग जगह बना चुका है।

लोगों का अभिवादन स्वीकार करती वाईएस विजयम्मा
लोगों का अभिवादन स्वीकार करती वाईएस विजयम्मा

स्पेशल स्टेट्स सहित राज्य की विभिन्न मांगों के समाधान सहित चंद्रबाबू सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ पिछले पांच वर्षों से लगातार संघर्ष करता रहा है। अब चुनाव करीब आने के मद्देनजर परिवार का हर सदस्य अलग-अलग जिलों में अपने चुनाव प्रचार को धार देने के साथ ही चंद्रबाबू नायडू के भ्रष्टाचार और विश्वासघात की पोल खोलते हुए आगे बढ़ रहा है।

इसे भी पढ़ें :

सोशल मीडिया पर खिसकता जा रहा है चंद्रबाबू का जनाधार, देखिए इसकी हकीकत

जगन के परिवार के हर सदस्य दिन में तीन से चार चुनावी रैलियां कर रहे हैं और उन्हें लोगों से व्यापक समर्थन मिल रहा है। यह कहना गलत नहीं होगा कि आंध्र प्रदेश के इतिहास में वाईएसआर परिवार ने चुनाव प्रचार और लोगों को जागरूक करने के मामले में रिकार्ड कायम किया है। वाईएस जगन समय-समय पर विभिन्न कार्यक्रमों के जरिए सत्तापक्ष की धोखाधड़ियों व नाकामियों को उजागर करते रहे हैं।

वाईएसआरसीपी के प्रचार में जुटी वाईएस विजयम्मा
वाईएसआरसीपी के प्रचार में जुटी वाईएस विजयम्मा

यहीं वजह है कि आज राज्य में हर कोई रावाली जगन कावाली जगन के नारे लगाते दिख रहे हैं। राज्य में जगन की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई है कि जगन पर बनाया गया एक वीडियो को कुछ ही दिनों में 2 करोड़ से अधिक लोग देख चुके हैं। यही नहीं, वाईएस विजयम्मा, वाईएस शर्मिला के चुनाव प्रचार के वीडियो भी जमकर देखे जे रहे हैं।